Blog पृष्ठ 153




                                               

म्यू (रॉकेट परिवार)

म्यू एम के रूप भी में जाना जाता है जापानी ठोस ईंधन वाहक रॉकेट की एक श्रृंखला थी, जो 1966 से 2006 के बीच उछिनकौर अंतरिक्ष केंद्र से लांच किया जाता था। मूल रूप से इसे जापान की अंतरिक्ष और एस्ट्रोनॉटिकल विज्ञान संस्थान द्वारा विकसित किया गया था

                                               

वायुगतिकी

वायुगतिकी गतिविज्ञान की वह शाखा है जिसमें वायु तथा अन्य गैसीय तरलों की गति का और इन तरलों के सापेक्ष गतिवान ठोसों पर लगे बलों का विवेचन होता है। इस विज्ञान के सार्वाधिक महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों में से एक अनुप्रयोग वायुयान की अभिकल्पना है।

                                               

विंगसूट फ़्लाइंग (उड़ान)

विंगसूट फ़्लाइंग, विंगसूट नामक एक विशेष जंपसूट का इस्तेमाल कर मानव शरीर को हवा में उड़ाने का खेल है। यह विंगसूट मानव शरीर के सतही आकार में वृद्धि कर उसे उड़ान में काफी मदद करता है। आधुनिक विंगसूट डिजाइनों में सतही आकार वाले भाग को कपड़ों से पैरों ...

                                               

वायुपत्रक

किसी वायुयान के पंख आदि के अनुप्रस्थ काट के आकार का नाम वायुपत्रक है। वायुयान के पंख के अलावा प्रोपेलर, रोटर या टर्बाइन के ब्लेड के अनुप्रस्थ काट के आकार को भी वायुपत्रक कहते हैं। इस आकार का बहुत महत्व है क्योंकि गति के समय बलों का परिणाम व दिशा ...

                                               

समुद्री जायर

समुद्र विज्ञान में जायर किसी सागरीय या महासागरीय क्षेत्र में घूर्णन करने वाले, यानि एक क्षेत्र में घूमने वाले, जल प्रवाह को कहते हैं। जायरों में पानी एक ही बड़े क्षेत्र में गोल-गोल घूमता रहता है। इनमें अक्सर साथ में भारी वायु प्रवाह भी चलता है।

                                               

स्विंग गेंदबाजी

स्विंग गेंदबाजी क्रिकेट के खेल में गेंदबाजी की एक तकनीक है। इसे इस्तेमाल करने वालो को स्विंग गेंदबाज़ कहा जाता है। स्विंग गेंदबाज़ी, तेज गेंदबाज़ी के उपप्रकार के रूप में वर्गीकृत है।

                                               

आदर्श तरल

भौतिकी में, आदर्श तरल उस तरल को कहते हैं जिसे उसके विरामस्थ तंत्र घनत्व \rho_m; तथा समदैशिक दाब p द्वारा पूर्णतः अभिलक्षित किया जा सकता हो। तरल दाब - किसी बर्तन मे रखे तरल द्वारा बर्तन की दीवार के प्रति एकांत छेत्रफल पर आरोपित बल को तरल दाब कहते है |

                                               

उत्प्लावन बल

किसी तरल में आंशिक या पूर्ण रूप से डूबी किसी वस्तु उपर की ओर लगने वाला बल उत्प्लावन बल कहलाता है। उत्प्लावन बल नावों, जलयानों, गुब्बारों आदि के कार्य के लिये जिम्मेदार है।

                                               

तरल गतिकी

तरल गतिकी तरल यांत्रिकी की एक शाखा है। इसका प्रयोग गतिशील तरलों की प्रकृति तथा उस पर लगने वाले बलों के आकलन के लिए किया जाता है। जटिल तरल गतिकी के सवालों के हल के लिए गणकीय तरलगतिकी का प्रयोग होता है जिसमें संगणकों के सहारे तरल समीकरणों का संख्या ...

                                               

तरल यांत्रिकी

तरल यांत्रिकी तरल पदार्थो के स्वभाव एवं गति के सिद्धान्तों को समझाने वाली यांत्रिकी की एक शाखा है। तरल, द्रव या गैस हो सकते हैं और उनमें सीमित मात्रा में ठोस के मिले या घुले रहने पर भी इन सिद्धांतों का प्रयोग किया जा सकता है। तरल पदार्थ भी न्यूटन ...

                                               

दाब

किसी सतह के इकाई क्षेत्रफल पर लगने वाले अभिलम्ब बल को दाब कहते हैं। इसकी इकाई न्यूटन प्रति वर्ग मीटर होती है। दाब की और भी कई प्रचलित इकाइयाँ हैं। p = | F → ⊥ | A {\displaystyle p={\frac {|{\vec {F}}_{\perp }|}{A}}\,}

                                               

द्रवचालित संचरण प्रणाली

शक्तिप्रेषण की विधियों में द्रवचालित प्रणाली सबसे आधुनिक है। द्रवचालित प्रणाली में शक्ति एक तरल की सहायता से प्रेषित की जाती है। यह तरल बहुधा तेल होता है, किंतु कभी कभी जल का भी व्यवहार किया जाता है। द्रवचालित प्रणाली को दो विभागों में विभाजित कि ...

                                               

द्रवस्थैतिक संतुलन

तरल यांत्रिकी में द्रवस्थैतिक संतुलन या हाइड्रोस्टैटिक ऍक्विलिब्रियम किसी तरल पदार्थ की उस अवस्था को कहते हैं जिसमें वह तरल पदार्थ या तो बिलकुल स्थिर हो या फिर एक बिलकुल स्थाई गति से हिल रहा हो। ऐसी अवस्था अक्सर तब पैदा होती है जब किसी तरल पर गुर ...

                                               

द्रवस्थैतिकी

द्रवस्थैतिकी, तरल स्थैतिकी या हाइड्रोस्टैटिक्स तरल पदार्थों की स्थिर अवस्था का विज्ञान है और तरल यांत्रिकी की उपशाखा है। इस विज्ञान में यह अध्ययन किया जाता है के किन हालात में कोई तरल पदार्थ यांत्रिक संतुलन में होने की वजह से शांत होता है। इसके व ...

                                               

नेवियर-स्टोक्स समीकरण

नेवियर-स्टोक्स समीकरण तरल यांत्रिकी के सबसे अधिक उपयोगी समीकरणों में से एक है। यह श्यान तरल पदार्थों की गति को मॉडल करता है। यह समीकरण न्यूटन के गति के द्वितीय नियम को तरल की गति पर लागू करने से प्राप्त होता है।

                                               

परिसीमा स्तर

भौतिकी और तरल यांत्रिकी में परिसीमा स्तर श्यान तरल की उस परिसीमा को कहते हैं जहाँ श्यानता का प्रभाव सार्थक हो। पृथ्वी के वायुमण्डल का वायुमण्डलीय परीसीमा स्तर पृथ्वी की सतह है।

                                               

भ्रमिलता

भ्रमिलता तरल यांत्रिकी और मौसम विज्ञान से संबन्धित उपयोगी अवधारणा है। यह द्रव की किसी धुरी के सापेक्ष घूर्णन की प्रकृति के बारे में जानकारी देता है। भ्रमिलता ω → {\displaystyle {\vec {\omega }}} को द्रव के वेग u → {\displaystyle {\vec {u}}} के कर ...

                                               

अभिकलनात्मक तरल यांत्रिकी

गणकीय तरल गतिकी या अभिकलनीय तरल गतिकी, तरल यांत्रिकी और गणक विधियों का एक मिश्र विषय है जिसमें आंकिक विधियों की मदद से तरल गति के जटिल समीकरणों का हल निकाला जाता है। संगणकों के आ जाने से इस विषय में शोध और विकास के कार्य तेजी से चलने लगे हैं।

                                               

संवहन

संवहन ऊष्मा के स्थानान्तरण या संचरण की एक विधि है किसी तरल पदार्थ में अणुओं के समग्र स्थानान्तरण द्वारा ऊष्मा का लेन-देन होता है। ठोसों में संवहन सम्भव नही है किन्तु तरल पदार्थों में संवहन ऊष्मा के अन्तरण की एक मुख्य विधि है। संवहन द्वारा द्रव्यम ...

                                               

समविभव पृष्ठ

समविभव पृष्ठ उस पृष्ठ को कहते हैं जिसके प्रत्येक बिन्दु पर विभव समान हो। किसी एकल आवेश q के लिए विभव नीचे दी हुई समीकरण के द्वारा बताया गया है- V = kq/r जहां k = 1/4pie0) है) इससे यह प्रकट होता है कि यदि r नियत है तो V नियत रहता है। इस प्रकार किस ...

                                               

भूतकनीकी अभियान्त्रिकी

भूतकनीकी अभियान्त्रिकी, सिविल इंजीनियरी की वह शाखा है जो पृथ्वी के पदार्थों के इंजीनियरी-व्यवहार के अध्ययन से सम्बन्धित है।

                                               

मृदा यांत्रिकी

भूयांत्रिकी, इंजीनियरी यांत्रिकी की एक शाखा है जो भूमि के गुणधर्मों का अध्ययन एवं वर्णन करती है। यह तरल यांत्रिकी एवं ठोस यांत्रिकी से इस अर्थ में अलग है कि भूमि गैस, द्रव एवं ठोस के विषमांग मिश्रण से बनी होती है। इसके अलावा भूमि में जैव ठोस, द्र ...

                                               

संरचना इंजीनियरी

संरचना इंजीनियरी, इंजीनियरी की वह शाखा है जो लोड सहन करने या बल का प्रतिरोध करने के के लिये बनायी जाने वाली संरचनाओं के विश्लेषण एवं डिजाइन से सम्बन्ध रखती है। इसे प्रायः सिविल इंजीनियरी के अन्दर एक विशेषज्ञता का क्षेत्र समझा जाता है। संरचना इंजी ...

                                               

श्रम आंदोलन

श्रम आंदोलन या लेबर मूवमेंट श्रमवर्ग लोगों के एक सामूहिक संगठन के विकास के लिए अपने कर्मचारियों और सरकारों से, विशेष रूप से श्रम संबंधों को शासित करने वाले विशिष्ट कानूनों के कार्यान्वयन के माध्यम से बेहतर आचरण के लिए अपने स्वयं के हित में अभियान ...

                                               

बेगार प्रथा

मूल्य चुकाए बिना श्रम कराने की प्रथा को बेगार कहते हैं। इसमें श्रमिकों की इच्छा के बिना काम लिया जाता है। सामंती, साम्राज्यवादी और अफ़सरशाही प्रायः समाज के कमज़ोर लोगों से बेगार करवाती है। ब्रिटिशकालीन भारत में तो यह आम बात थी। किंतु स्वतंत्र भार ...

                                               

विभागीकरण

किसी बड़े कार्य को सम्पादित करने के लिये निर्मित संगठन या संस्था में विभिन्न प्रकार के कार्य करने होते हैं। एक प्रकार का कार्य करने में दक्ष व्यक्तिओं को एक विभाग में रखा जाता है और दूसरे प्रकार का के कार्य में दक्ष लोगों को दूसरे विभाग में। इस प ...

                                               

व्यावसायिक संरक्षा एवं स्वास्थ्य

व्यावसायिक संरक्षा एवं स्वास्थ्य) के अन्तर्गत किसी व्यवसाय या रोजगार में लगे हुए लोगों की संरक्षा, स्वास्थ्य एवं कल्याण पर विचार किया जाता है।

                                               

श्रमावर्त

मानव संसाधन के सन्दर्भ में किसी कर्मचारी को किसी दूसरे कर्मचारी के द्वारा प्रतिस्थापित करने को श्रमावर्त या श्रम-प्रतिस्थापन कहते हैं। किसी संगठन से कोई कर्मचारी कई कारणों से अलग हो सकता है- निष्कासन, सेवानिवृत्ति, मृत्यु, स्थानान्तरण, त्यागपत्र ...

                                               

श्रेणी (गिल्ड)

श्रेणियाँ मूलत: शिल्पकारों और व्यापारियों के संघ होती थीं। इनका लक्ष्य था सदस्यों की सहायता करना। मध्यकालीन युग में श्रमविभाजन सरल था। बड़े बड़े पेचीदे हथियारों के स्थान पर सरल हथियारों का प्रयोग होता था। नगर औद्योगिक समुदायों के केंद्र होते थे। ...

                                               

अभिशासन

अभिशासन का सन्दर्भ "शासन करने की सारी उन प्रक्रियाओं से हैं, भले वे किसी सरकार, बाज़ार या संजाल द्वारा संचालित हो, भले किसी परिवार, जनजाति, औपचारिक या अनौपचारिक संगठन या क्षेत्पर हो, और भले किसी क़ानून, मानदण्ड, सत्ता अथवा भाषा से हो।" इसका सम्बन ...

                                               

पुलिस अधिकारी

पुलिस अधिकारी पुलिस बल का कानूनी कर्मचारी है। ज्यादातर देशों में, "पुलिस अधिकारी" एक सामान्य शब्द है जो कोई विशेष रैंक निर्दिष्ट नहीं करता है। पुलिस अधिकारियों को आम तौपर अपराधियों को हिरासत में लेना और अपराध की रोकथाम और पहचान का कार्य दिया जाता ...

                                               

ज़किया सोमन

ज़किया सोमन ने नूरजहां सफ़िया नियाज़ के साथ मिलकर भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन नाम का संगठन बनाया। साल 2007 में दिल्ली में एक कॉन्फ्रेंस में क़रीब 500 मुस्लिम महिलाओं ने अपने नागरिक और क़ुरान के अंतर्गत दिगए अधिकारों की मांग रखी, तो उसी का नेतृत्व ...

                                               

नाजिक अल-आबिद

नाज़िक खतीम अल-इदबीद बेहाम को "अरब के आर्क ऑफ जोन" के रूप में भी जाना जाता है और सीरिया में ओटोमन और फ्रांसीसी उपनिवेशवाद की महिला अधिकार कार्यकर्ता और आलोचक के रूप में जाना जाता था। वह मेयसालुन की लड़ाई के दौरान अंतर्राष्ट्रीय रेड क्रॉस और रेड क ...

                                               

भंवरी देवी

भंवरी देवी के नाम से भी जानी जाती हैं। भंवरी देवी भारत के राजस्थान राज्य के भटेरी गांव की निवासी और एक दलित सामाजिक कार्यकर्ता थीं। देवी ने १९९२ में बाल विवाह पर रोक लगाने की कोशिश की थी लेकिन कुछ उच्च वर्ग के लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था।

                                               

मासूमा बेगम

मासूमा बेगम तैयबा बेगम खदीव जंग की सबसे बड़ी बेटी और सैयद हुसैन बिलगरामी की पोती थी। उनका परिवार परदे की प्रथा का पालन करता था। वह फ़ारसी भाषा और साहित्य से रुचि रखती थी और उर्दू तथा अंग्रेज़ी भाषाओं को अच्छे से जानती थी। उन्होंने 1922 अपने दूर क ...

                                               

लीमेह जीबोई

लिमाह रोबेर्ता गबोवी लाइबेरिया की शांति कार्यकर्ता हैं। इन्हें २०११ में नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया है। ये पुरस्कार उन्होंने लाइबेरिया की राष्ट्रपति एलेन जानसन सरलीफ और यमन की महिला अधिकार कार्यकर्ता तवाकुल करमान के साथ सांझा किया। उन्ह ...

                                               

हब्शी

मानव प्रजाति को तीन मुख्य प्रजातीय विभागों में बाँटा जा सकता है: मंगोलियाई या "पीत" वर्ण के लोग और नीग्रोई अर्थात् हब्शी या "काले" वर्ण के लोग। काकेसियाई या "श्वेत" वर्ण के लोग,

                                               

जातीय समूह

जातीय समूह मनुष्यों का एक ऐसा समूह होता है जिसके सदस्य किसी वास्तविक या काल्पनिक सांझी वंश-परंपरा के माध्यम से अपने आप को एक नस्ल के वंशज मानते हैं। यह सांझी विरासत वंशक्रम, इतिहास, रक्त-संबंध, धर्म, भाषा, सांझे क्षेत्र, राष्ट्रीयता या भौतिक रूप- ...

                                               

ईरानी

ईरानी भारतीय उपमहाद्वीप में फैले एक नस्ली वर्ग को कहते हैं जो पिछले 1000 सालों में यहाँ आए हैं। अक्सर ईरानियों को पारसियों के समान समझने की भूल की जाती है। पारसी वो लोग हैं जो 1000 साल के पहले भारत में आए जबकि ईरानी वो लोग हैं जो उसके बाद आए। इन ...

                                               

एशियाई लोग

एशिया में मानव विकास सूचकांक के आधापर सबसे विकसित क्षेत्र पूर्वी एशिया है। वहाँ बेहतर स्वच्छता, शिक्षा और आय के आधार पर, पिछले 40 वर्षों में औसत मानव विकास सूचकांक की दरें दोगुनी हो गई है। 1970 के बाद से मानव विकास सूचकांक में दुनिया का दूसरा सबस ...

                                               

कुर्द लोग

कुर्द लोग मुख्य रूप से उत्तरी इराक़, दक्षिणपूर्वी तुर्की तथा उत्तरी सीरिया में पाए जाते हैं। कुर्द लोगों से सम्बन्धित चीज़ों को भी कुर्द कहा जाता है। इनकी भाषा को कुर्द भाषा कहा जाता है। से लोग शिया बाहुल्य हैं

                                               

भारत में नस्लवाद

भारत में जातीय सम्बंध अथवा भारत में नस्लवाद भारतीय लोगों के अन्य नस्ल अथवा जातीयता के लोगों के साथ रवैये को प्रदर्शित करता है। भारत के प्रत्येक राज्य में इसकी लोकसंस्कृति, रहन सहन, लोकगीत, लोकनृत्य आदि में भिन्नता पायी जाती है।

                                               

मूर

मूर उत्तरी अफ्रीका के अरबों तथा बर्बर लोगों को कहते हैं जो व्यापारिक कारणों से कई अन्य क्षेत्रों में बस गए। ये इस्लाम के आगमान से पूर्व तथा उसके बाद भी विस्थापित होते रहे। स्पेन, श्रीलंका तथा इंडोनेशिया कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहाँ मूरों की आबादी रहत ...

                                               

स्लाव लोग

स्लाव लोग या स्लावी लोग पूर्वी यूरोप, दक्षिणी यूरोप और उत्तर एशिया में बसने वाली एक मानव जाति है। यह और इनके पूर्वज स्लावी भाषाएँ बोलते थे, जो हिन्द-यूरोपीय भाषा-परिवार की एक उपशाखा है। स्लावी लोगों के नाम अक्सर इक या इच की ध्वनि में ख़त्म होते ह ...

                                               

पितृत्व का बंधन

किसी पुरुष के लिए पितृत्व या बाप बनने का एहसास बच्चे के जन्म के बाद धीरे-धीरे होता है। परन्तु महिला को मातृत्व का एहसास को तत्काल होता है क्योंकि नवजात उसी की कोख से निकलता है। इसी कारण बच्चों की आवशयकता पहले माँ को पता चलती है कि कब उसे भूख लगी ...

                                               

मातृत्व का बंधन

मातृत्व एक महत्वपूर्ण मानव बंधन है। यह एक माँ के अपने बच्चों के प्रति स्नेह, प्याऔर देखरेख का नाम है। माँ न केवल बच्चों के खाने-पीने और स्वास्थ्य का ध्यान रखती है बल्कि हर काम में स्वयं से आगे बच्चों की भलाई को रखती है। स्कूली बच्चों की माएँ अपने ...

                                               

गुआंचे

गुआंचे, कैनरी द्वीपसमूह पर निवास करने वाले आदिवासी हैं जिन्हें बर्बर नाम से जाना जाता है। ऐसा माना जाता है कि ये लोग वहाँ पर १००० ई॰पू॰ अथवा इससे भी पहले बस गये थे।

                                               

विकीर्णन (डायसपोरा)

विकीर्णन या डायस्पोरा diaspora से आशय है -किसी भौगोलिक क्षेत्र के मूल वासियों का किसी अन्य बहुगोलिक क्षेत्र में प्रवास करना विकीर्ण होना। किन्तु डायसपोरा का विशेष अर्थ ऐतिहासिक अनैच्छिक प्रकृति के बड़े पैमाने वाले विकीर्ण, जैसे जुडा से यहूदियों क ...

                                               

आदिम-हिन्द-यूरोपीय लोग

आदिम-हिन्द-यूरोपीय यूरेशिया में बसने वाले उन प्राचीन लोगों को कहा जाता है जो आदिम-हिन्द-यूरोपीय भाषा बोलते थे। इनके बारे में जानकारी भाषावैज्ञानिक तकनीकों से और कुछ हद तक पुरातत्व-विज्ञान से आई है। आधुनिक युग में अनुवांशिकी के ज़रिये भी इनकी जाती ...

                                               

कारलूक लोग

कारलूक या क़ारलूक़ एक ख़ानाबदोश तुर्की क़बीला था जो मध्य एशिया में अल्ताई पहाड़ों से पश्चिम में कारा-इरतिश और तरबगत​ई पर्वतों के क्षेत्र में बसा करता था। इन्हें चीनी लोग गेलोलू भी बुलाते थे। कारलूक समुदाय जातीयता के नज़रिए से उईग़ुर लोगों से सम्ब ...