Blog पृष्ठ 18




                                               

अंतरिक्ष यान

आवश्यकता और उद्देश्य के अनुसार अंतरिक्ष यान में बहुत सी उपप्रणालियाँ प्रदान की जाती हैं। कुछ मुख्य प्रणालियाँ ये हैं: शक्ति प्रणाली उँचाई नापने एवं ऊंचाई के नियंत्रण की प्रणाली जीवन यापन सहायक प्रणाली मानव सहित अंतरिक्ष यान के लिये संरचना प्रणाली ...

                                               

डॉन (अंतरिक्ष यान)

डॉन अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसन्धान एजेंसी नासा का एक अंतरिक्ष यान है जिसे 27 सितम्बर 2007 को पृथ्वी से राकेट पर छोड़ा गया था और जिसका ध्येय हमारे सौर मंडल के क्षुद्रग्रह घेरे के दो प्रमुख सदस्यों पर शोध करना है। यह सीरीस नाम का बौना ग्रह है और वॅस्टा ...

                                               

सौर एवं सौरचक्रीय वेधशाला (सोहो)

सौर एवं सौरचक्रीय वेधशाला) यूरोप के एक औद्योगिक अल्पकालीन संघटन ऐस्ट्रियम द्वारा निर्मित एक अंतरिक्ष यान है। इस वेधशाला को लॉकहीड मार्टिन एटलस २ एएस रॉकेट द्वारा २ दिसम्बर १९९५ को अंतरिक्ष में भेजा गया। इस प्रयोगशाला का लक्ष्य सूर्य और सौरचक्रीय ...

                                               

अकात्सुकी (अंतरिक्ष यान)

अकात्सुकी, एक जापानी मानवरहित अंतरिक्ष यान है, जिसका उद्देश्य शुक्र ग्रह का अन्वेषण था | इसे 20 मई 2010 को एक H-IIA 202 रॉकेट पर लादकर प्रमोचित किया गया था |

                                               

गैलिलेयो (अंतरिक्ष यान)

गैलिलेयो एक अमेरिकी अंतरिक्ष यान था जो कि बृहस्पति ग्रह का अन्वेषण करता था। गैलिलेयो अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसंधान संस्था नासा द्वारा अंतरिक्ष शटल अटलांटिस से भेजा गया था। इसे हमारे सौर मंडल के सबसे बड़े ग्रह बृहस्पति और उसके प्राकृतिक उपग्रहों का अध ...

                                               

कैसिनी-होयगेन्स

कैसिनी-होयगेन्स एक अंतरिक्ष यान मिशन है जो सन् २००४ से हमारे सौर मंडल के दूसरे सबसे बड़े ग्रह शनि और उसके प्राकृतिक उपग्रहों का अध्ययन कर रहा है। यह १९९७ में पृथ्वी से रोकेट के ज़रिये छोड़ा गया और इस मिशन में शनि के इर्द-गर्द कक्षा में घूमने वाला ...

                                               

रोसेटा (अंतरिक्ष यान)

रोसेटा यूरोपीय अंतरिक्ष अभिकरण का एक अंतरिक्ष यान है जिसे २ मार्च २००४ को पृथ्वी से छोड़ा गया था। इसका ध्येय ६७पी/चुरयुमोव-गेरासिमेंको नामक धूमकेतु के समीप पहुँचकर उसका अध्ययन करना है। यह यान सन् २०१४ के मध्य में उस धूमकेतु तक पहुँचेगा और फिर उसक ...

                                               

युलीसेस

यूलिसिस एक रोबोटिक अंतरिक्ष यान है जिसे नासा और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के एक संयुक्त उद्यम के रूप में सूर्य का अध्ययन करने के लिए डिजाइन किया गया था। अंतरिक्ष यान को नजदीकी सौर दूरी के लिए अपनी लंबी और अप्रत्यक्ष प्रक्षेपवक्र की वजह से मूलतः ओडी ...

                                               

फ़ीनिक्स (अंतरिक्ष यान)

फ़ीनिक्स मार्स स्कॉउट कार्यक्रम के तहत मंगल ग्रह के अंतरिक्ष की खोज अभियान पर निकला एक रोबोट अंतरिक्ष यान है। इस अभियान के अन्तर्गत वैज्ञानिक मंगल ग्रह सूक्ष्म जीवन के लिये उपयुक्त वातावरण की खोज और ग्रह पर पानी का इतिहास जानने के लिए अनुसंधान कर ...

                                               

जूनो (अंतरिक्ष यान)

जूनो अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसन्धान परिषद्, नासा, द्वारा हमारे सौर मंडल के पाँचवे ग्रह, बृहस्पति, पर अध्ययन करने के लिए पृथ्वी से ५ अगस्त २०११ को छोड़ा गया एक अंतरिक्ष शोध यान है। लगभग ५ वर्ष लंबी यात्रा के बाद ५ जुलाई २०१६ को यह बृहस्पति तक पहुँचने ...

                                               

ड्रैगन 2

ड्रैगन 2 स्पेसएक्स ड्रैगन अंतरिक्ष यान का दूसरा संस्करण है। जो एक मानव रेटेड स्थलीय सॉफ्ट लैंडिंग बनाने के लिए सक्षम वाहन होगा। इसमें ज्यादा बड़ी खिड़कियां और लैंडिंग टांगें जो अंतरिक्ष यान के नीचे विस्तार गया किया है।

                                               

बुरान (अंतरिक्ष यान)

बुरान पहला सोवियत/रूसी अंतरिक्ष विमान था। जिसे बुरान कार्यक्रम के हिस्से के रूप में उत्पादन किया जा रहा था। बुरान पूरे सोवियत/रूसी अंतरिक्ष शटल परियोजना के लिए भी पदनाम था। इसकी पहली मानवरहित उड़ान 15 नवंबर 1988 को की गयी थी।

                                               

वोस्तोक (अंतरिक्ष यान)

वोस्तोएक प्रकार का सोवियत संघ द्वारा बनाया गया अंतरिक्ष यान था। इतिहास में पहली मानव अंतरिक्ष उड़ान सोवियत अंतरिक्ष यात्री यूरी गागरिन द्वारा 12 अप्रैल, 1961 को इस अंतरिक्ष यान पर अंजाम दी गयी थी। यह अंतरिक्ष यान वोस्तोक कार्यक्रम का हिस्सा था। ज ...

                                               

वॉस्कहोड़ (अंतरिक्ष यान)

वॉस्कहोड़ एक मानवयुक्त अंतरिक्ष यान था। जिसे सोवियत संघ द्वारा मानव अंतरिक्ष उड़ान के लिए तैयार किया गया था। यह वॉस्कहोड़ कार्यक्रम का हिस्सा था। वॉस्कहोड़ 1 तीन जबकि वॉस्कहोड़ 2 दो दल के मानवयुक्त उड़ान के लिए इस्तेमाल किया गया था। वॉस्कहोड़ को ...

                                               

गगनयान

गगनयान भारतीय मानवयुक्त अंतरिक्ष यान है। अंतरिक्ष कैप्सूल तीन लोगों को ले जाने के लिए तैयार किया गया है। और उन्नत संस्करण डॉकिंग क्षमता से लैस किया जाएगा। अपनी पहली मानवयुक्त मिशन में, यह 3.7 टन का कैप्सूल तीन व्यक्ति दल के साथ सात दिनों के लिए 4 ...

                                               

ओरायन(अंतरिक्ष यान)

ओरायन बहुउद्देश्यीय चालक दल वाहन एक अमेरिकी मानवयुक्त अंतरिक्ष यान है। जो चालक दल के चार अंतरिक्ष यात्रियों को पृथ्वी की कक्षा या पृथ्वी की कक्षा से परे ले जाने का इरादा रखता है।

                                               

सोयूज़

सोयूज Soyuz ; रूसी Сою́з ; IPA, Union) १९६० के दशक में सोवियत संघ के अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिये कोरोलियोव डिजाइन ब्यूरो द्वारा डिजाइन किये गये अंतरिक्षयानों की शृंखला है जो आज भी काम कर रहे हैं। सोयूज अंतरिक्ष यान, वोस्खोद Voskhod के बाद आया था औ ...

                                               

शेह्ज़होउ (अंतरिक्ष यान)

शेह्ज़होउ अंतरिक्ष यान चीन के द्वारा संचालित मानवयुक्त अंतरिक्ष कार्यक्रम का अंतरिक्ष यान है। जिसे मानव को अंतरिक्ष में भेजने में प्रयोग किया जाता है। इसका डिजाइन रूसी सोयूज़ अंतरिक्ष यान जैसा दिखता है। लेकिन यह आकार में बड़ा है। और सीधे सोयूज़ अ ...

                                               

अंतरिक्ष शोध यान

अंतरिक्ष शोध यान, एक वैज्ञानिक अंतरिक्ष अन्वेषण मिशन है जिसमें एक अंतरिक्ष यान पृथ्वी से छूटता है और अंतरिक्ष की पड़ताल करता है। यह रोबोटीय अंतरिक्ष यान का ही एक रूप है। वॉयजर 1 सबसे प्रसिद्ध अंतरिक्ष शोध यानों में से एक है।

                                               

उपग्रह

यह लेख कृत्रिम उपग्रह के बारे में है। प्राकृतिक उपग्रहों के लिए, जो चन्द्रमाओं के रूप में जाने जाते हैं, प्राकृतिक उपग्रह देखे"। अन्तरिक्ष उड़ान के संदर्भ में, उपग्रह एक वस्तु है जिसे मानव से अलग करने के लिए कभी कभी कृत्रिम उपग्रह भी कहा जाता है।

                                               

इंटरस्टेल्लर बाउंड्री एक्सप्लोरर उपग्रह

इंटरस्टेल्लर बाउंड्री एक्सप्लोरर उपग्रह अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के द्वारा कुछ समय से लगातार सिमटती जा रही सौर वायु के अध्ययन हेतु छोड़ा गया एक अंतरिक्ष यान है। यह यान सौर वायु के बारे में जानकारी प्राप्त करेगा जो विभिन्न ग्रहों की ब्रह्माण्ड ...

                                               

ऐमलथीया (उपग्रह)

ऐमलथीया बृहस्पति ग्रह का तीसरा सब से अंदरूनी उपग्रह है। इस उपग्रह की खोज ९ सितम्बर १८९२ में ऍडवर्ड ऍमरसन बर्नार्ड नामक अमेरिकी खगोलशास्त्री ने की थी और यूनानी मिथ्य-कथाओं की एक पारी के नाम पर इसका नाम रखा गया। यह उपग्रह बृहस्पति के छल्लों में स्थ ...

                                               

आर्यभट्ट (उपग्रह)

आर्यभट्ट भारत का पहला उपग्रह है, जिसे इसी नाम के महान भारतीय खगोलशास्त्री के नाम पर नामित किया गया है। यह सोवियत संघ द्वारा १९ अप्रैल १९७५ को कॉसमॉस - ३एम प्रक्षेपण वाहन द्वारा कास्पुतिन यार से प्रक्षेपित किया गया था। यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान ...

                                               

ऍरिअल (उपग्रह)

ऍरिअल अरुण ग्रह का एक उपग्रह है। अकार में यह अरुण का चौथा सब से बड़ा उपग्रह है। ऍरिअल अरुण के सारे उपग्रहों में से सब से अधिक चमकदार है। अरुण के अन्य बड़े चंद्रमाओं की तरह, ऍरिअल भी बर्फ़ और पत्थर का बना हुआ है। इसकी सतह बर्फ़ीली और अन्दर का केंद ...

                                               

गैनिमीड (उपग्रह)

अगर आप के इस से मिलते-जुलते नाम के क्षुद्रग्रह ऐस्टेरोयड के बारे में जानकारी ढूंढ रहे हैं तो १०३६ गैनिमीड वाला लेख देखिये गैनिमीड हमारे सौर मण्डल के पाँचवे ग्रह बृहस्पति का सब से बड़ा उपग्रह है और यह पूरे सौर मंडल का भी सब से बड़ा चन्द्रमा है। इस ...

                                               

हिपेरायन (चंद्रमा)

हिपेरायन, शनि का एक चंद्रमा है। यह सेटर्न VII रूप में भी जाना जाता है। इसकी खोज 1848 में विलियम क्रांच बॉण्ड, जॉर्ज फिलिप्स बॉण्ड और विलियम लासेल द्वारा हुई थी। यह अपने अनियमित आकार, अस्त-व्यस्त घूर्णन और अस्पष्टीकृत स्पंज जैसी दिखावट के कारण विल ...

                                               

डायोनी (उपग्रह)

डायोनी हमारे सौर मण्डल के छठे ग्रह शनि का चौथा सब से बड़ा उपग्रह है। पूरे सौर मण्डल में यह १५वा सब से बड़ा उपग्रह है और अपने से छोटे सारे उपग्रहों के मिले हुए द्रव्यमान से बड़ा है। वैसे तो यह अधिकतर पानी की बर्फ़ का बना है, लेकिन टाइटन और ऍनसॅलअड ...

                                               

डिस्नोमिया (उपग्रह)

डिस्नोमिया हमारे सौर मण्डल के सब से बड़े ज्ञात बौने ग्रह ऍरिस का इकलौता ज्ञात उपग्रह है। अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ द्वारा रखा गया इसका औपचारिक नाम ऍरिस १ डिस्नोमिया" है। इसका व्यास १००-२५० किमी अनुमानित किया जाता है। ऍरिस और डिस्नोमिया दोनों की ख ...

                                               

यूरोपा (उपग्रह)

यूरोपा, हमारे सौर मण्डल के पाँचवे ग्रह बृहस्पति का चौथा सब से बड़ा उपग्रह है। इसका व्यास लगभग 3.138 किमी है जो हमारे चन्द्रमा से चंद किलोमीटर ही छोटा है।

                                               

आयो (उपग्रह)

आयो, हमारे सौर मण्डल के पाँचवे ग्रह बृहस्पति का तीसरा सब से बड़ा उपग्रह है और यह पूरे सौर मंडल का चौथा सब से बड़ा चन्द्रमा है। आयो का व्यास 3.642 किमी है। बृहस्पति के चार प्रमुख उपग्रहों में यह बृहस्पति की सब से क़रीबी कक्षा में परिक्रमा करने वाल ...

                                               

कलिस्टो (उपग्रह)

कलिस्टो हमारे सौर मण्डल के पाँचवे ग्रह बृहस्पति का दूसरा सब से बड़ा उपग्रह है और यह पूरे सौर मंडल का तीसरा सब से बड़ा चन्द्रमा है । इसका व्यास लगभग 4.820 किमी है, जो बुध ग्रह का 99% है लेकिन बुध से काफ़ी घनत्व होने के कारण इसका द्रव्यमान बुध का क ...

                                               

माइमस (उपग्रह)

माइमस हमारे सौर मण्डल के छठे ग्रह शनि का सातवा सब से बड़ा उपग्रह है। पूरे सौर मण्डल में यह बीसवा सब से बड़ा उपग्रह है। माइमस सब से छोटी ज्ञात खगोलीय वस्तु है जो अपने गुरुत्वाकर्षण के खींचाव से स्वयं को गोल कर चुकी है। माइमस का व्यास ३९६ किमी है।

                                               

मिरैन्डा (उपग्रह)

मिरैन्डा अरुण ग्रह के पांच गोल अकार वाले बड़े प्राकृतिक उपग्रहों में से सब से छोटा और अरुण की सब से क़रीबी परिक्रमा करते हुआ उपग्रह है। ध्यान रहे के इस से छोटे अरुण के इर्द-गिर्द २० से अधिक अन्य उपग्रह भी हैं, लेकिन वे गोल की बजाए बेढंगे अकार के ...

                                               

नियरीड (उपग्रह)

नियरीड सौर मण्डल के आठवे ग्रह वरुण का एक उपग्रह है। यह वरुण के सारे उपग्रहों में से तीसरा सबसे बड़ा है। इसकी कभी कोई साफ़ छवि नहीं देखी गयी इसलिए इसका अकार ज्ञात नहीं है, लेकिन इसका औसत व्यास ३४० किमी अनुमानित किया जाता है।

                                               

ओबेरॉन (उपग्रह)

ओबेरॉन अरुण ग्रह का एक उपग्रह है। अकार में यह अरुण का दूसरा सब से बड़ा उपग्रह है । टाइटेनिआ की तरह, ओबेरॉन भी बर्फ़ और पत्थर की लगभग बराबर मात्राओं से बना हुआ है। इसकी सतह बर्फ़ीली और अन्दर का केंद्रीय भाग पत्थरीला है। संभव है के बाहरी बर्फ़ और अ ...

                                               

रिया (उपग्रह)

रिया हमारे सौर मण्डल के छठे ग्रह शनि का दूसरा सब से बड़ा उपग्रह है। रिया सौर मण्डल के सारे उपग्रहों में से नौवा सब से बड़ा उपग्रह है। इसकी खोज १६७२ में इटली के खगोलशास्त्री जिओवान्नी कैसीनी ने की थी। रिया के घनत्व को देखते हुए वैज्ञानिकों का अनुम ...

                                               

टॅथिस (उपग्रह)

टॅथिस हमारे सौर मण्डल के छठे ग्रह शनि का पाँचवा सब से बड़ा उपग्रह है। पूरे सौर मण्डल में यह १६वा सब से बड़ा उपग्रह है और अपने से छोटे सारे उपग्रहों के मिले हुए द्रव्यमान से बड़ा है। यह लगभग सारा-का-सारा ही पानी की बर्फ़ का बना है और इसमें मुश्किल ...

                                               

टाइटेनिआ (उपग्रह)

टाइटेनिआ अरुण ग्रह का सब से बड़ा उपग्रह है। माना जाता है के यह चन्द्रमा बर्फ़ और पत्थर की लगभग बराबर मात्राओं से रचा हुआ है - इसकी सतह बर्फ़ीली है और अन्दर का हिस्सा पत्थरीला है। कुछ वैज्ञानिको की सोच है के बाहरी बर्फ़ और अंदरूनी पत्थर के बीच में ...

                                               

अम्ब्रिअल (उपग्रह)

अम्ब्रिअल अरुण ग्रह का एक उपग्रह है। अकार में यह अरुण का तीसरा सब से बड़ा उपग्रह है। अम्ब्रिअल का रंग अरुण के सारे उपग्रहों में से सब से गाढ़ा है। अरुण के अन्य बड़े चंद्रमाओं की तरह, अम्ब्रिअल भी बर्फ़ और पत्थर का बना हुआ है। इसकी सतह बर्फ़ीली और ...

                                               

थीबी (उपग्रह)

थीबी बृहस्पति ग्रह का चौथा सब से अंदरूनी उपग्रह है। इस उपग्रह की खोज ५ मार्च १९७९ को स्टीफ़न सायनोट नामक अमेरिकी खगोलशास्त्री ने वॉयजर प्रथम द्वारा ली गयी तस्वीरों का अध्ययन कर के की थी। यह उपग्रह बृहस्पति के छल्लों में स्थित है और थीबी गोसेमर छल ...

                                               

ऍनसॅलअडस (उपग्रह)

ऍनसॅलअडस हमारे सौर मण्डल के छठे ग्रह शनि का छठा सब से बड़ा उपग्रह है। ऍनसॅलअडस आकार में बहुत छोटा है - इसका व्यास केवल ४०० किमी है, जो शनि के सब से बड़े चद्रमा, टाइटन, का सिर्फ़ दसवाँ है। इस छोटे आकार के बावजूद इसकी सतह पर टीले-खाइयों से लेकर उल् ...

                                               

आऐपिटस (उपग्रह)

आऐपिटस हमारे सौर मण्डल के छठे ग्रह शनि का तीसरा सब से बड़ा उपग्रह है। आऐपिटस सौर मण्डल के सारे उपग्रहों में से ग्यारहवाँ सब से बड़ा उपग्रह है। इसकी खोज १६७१ में इटली के खगोलशास्त्री जिओवान्नी कैसीनी ने की थी। आऐपिटस इस बात के लिए मशहूर है के उसके ...

                                               

पैंडोरा (चंद्रमा)

पैंडोरा, शनि का एक आतंरिक उपग्रह है। इसकी खोज वॉयेजर 1 द्वारा ली गई तस्वीरों से 1980 में हुई थी, साथ ही तब अस्थायी तौपर S/1980 S 26 से पदनामित हुआ था। 1985 के उत्तरार्ध में यह आधिकारिक तौपर ग्रीक पौराणिक पात्र पैंडोरा पर नामित हुआ था। यह सेटर्न X ...

                                               

प्रोमेथियस (चंद्रमा)

प्रोमेथियस, शनि का एक आतंरिक उपग्रह है। इसकी खोज वॉयेजर 1 द्वारा ली गई तस्वीरों से 1980 में हुई थी, साथ ही तब अस्थायी तौपर S/1980 S 27 से पदनामित हुआ था। 1985 के उत्तरार्ध में यह आधिकारिक तौपर ग्रीक पौराणिक पात्र प्रोमेथियस पर नामित हुआ था। यह से ...

                                               

अंतरिक्ष उड़ान

अंतरिक्ष उड़ान अंतरिक्ष में गुज़रने वाली प्रक्षेपिक उड़ान होती है। अंतरिक्ष उड़ान में अंतरिक्ष यानों का प्रयोग होता है, जो मानव-सहित या मानव-रहित हो सकते हैं। मानवीय अंतरिक्ष उड़ान में अमेरिकी द्वारा करी गई अपोलो चंद्र यात्रा कार्यक्रम और सोवियत ...

                                               

अंतरिक्षयानिकी

अंतरिक्षयानिकी, भौतिकी की वह शाखा है जिसमें अंतरिक्ष नौचालान संबंधी सभी यांत्रिक, तकनिकी तथा आयुर्विज्ञान संबंधी समस्याओं का अद्ययन किया जाता है। उदाहरणार्थ- रॉकेट, मिसाइल, कृत्रिम उपग्रह का अध्ययन इसी श्रेणी में आता है।

                                               

वृक्ष

वृक्ष का सामान्य अर्थ ऐसे पौधे से होता है जिसमें शाखाएँ निकली हों, जो कम से कम दो-वर्ष तक जीवित रहे, जिससे लकड़ी प्राप्त हो। वृक्ष की एक जड़ होती है जो प्रायः ज़मीन के अन्दर होती है, तथा जड़ से निकलकर तना तथा पत्तियां हवा में रहते हैं। यह प्रदूषण ...

                                               

नीम

नीम भारतीय मूल का एक पर्ण- पाती वृक्ष है। यह सदियों से समीपवर्ती देशों- पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल, म्यानमार, थाईलैंड, इंडोनेशिया, श्रीलंका आदि देशों में पाया जाता रहा है। लेकिन विगत लगभग डेढ़ सौ वर्षों में यह वृक्ष भारतीय उपमहाद्वीप की भौगोलिक ...

                                               

सागौन

सागौन या टीकवुड द्विबीजपत्री पौधा है। यह चिरहरित यानि वर्ष भर हरा-भरा रहने वाला पौधा है। सागौन का वृक्ष प्रायः 80 से 100 फुट लम्बा होता है। इसका वृक्ष काष्ठीय होता है। इसकी लकड़ी हल्की, मजबूत और काफी समय तक चलनेवाली होती है। इसके पत्ते काफी बड़े ...

                                               

फैशन

यह शब्द सिर्फ सभी नवीनतम या सबसे लोकप्रिय या सबसे प्रसिद्ध कपड़े परिभाषित नहीं करता है। हकीकत में इस सामाजिक घटना अधिक महत्व शामिल है। कुछ तरीके से फैशन हम जो कर रहे हैं दिखाने के लिए और दृश्य सूचना के संदर्भ में हमारे व्यक्तित्व को चित्रित करने ...