Blog पृष्ठ 221




                                               

भूप्रावार पिच्छक

1- भूप्रावार पिच्छक अथवा भूप्रावार पिच्छ एक ऊष्मा के संकेन्द्रण द्वारा उत्पन्न अनियमितता है जो पृथ्वी के अन्दर भूप्रावार-क्रोड सीमा पर धटित होती है और इसके कारण चट्टानी पदार्थ गरम लपक के रूप में ऊपर उठता है। इसके होने की कल्पना सत्तर के दशक में क ...

                                               

भूरसायन

भूरसायन पृथ्वी तथा उसके अवयवों के रसायन से संबंधित विज्ञान है। भू-रसायन पृथ्वी में रासायनिक तत्वों के आकाश तथा काल में वितरण तथा अभिगमन के कार्य से संबद्ध है। नवीन खोजों की ओर अग्रसर होते हुए कुछ भू-विज्ञानियों तथा रसायनज्ञों ने नूतन विज्ञान भू-र ...

                                               

भूसंचलन

धरती के कुछ भाग दूसरे भागों के सापेक्ष धीमी किन्तु लगातार विस्थापित हो रहे हैं। इन्हें ही भूसंचलन कहते हैं। ये संचलन, धरती को अपरूपित करते हैं। भूसंचलन के निम्नलिखित कारक हैं- 3. धरती के घूर्णन द्वारा उत्पन्न बल 2. विवर्तन tectogenesis के कारण भू ...

                                               

भौतिक भूविज्ञान

भूपृष्ठीय परिवर्तनों के अध्ययन को बहुधा गतिकीय भूविज्ञान भी कहते हैं। स्पष्ट है कि यह नाम पृष्ठीय वातावरण की गतिशील स्थिति की ओर संकेत करता हैं, किन्तु आजकल यह नाम कुछ विशेष प्रचलित नहीं हें और इसके स्थान पर भौतिक भूविज्ञान अधिक प्रचलित है। इस वि ...

                                               

भ्रंश (भूविज्ञान)

भूपटल के भौगोलिक प्लेटें दबाव या तनाव के कारण संतुलन की अवस्था में नहीं रहती। जब भी प्लेटों में खिंचाव अधिक बढ़ जाता है, अथवा शिलाओं पर दोनों पार्श्व से पड़ा दबाव उनकी सहन शक्ति के बाहर होता है, तब शिलाएँ अनके प्रभाव से विस्थापित हो जाती हैं अथवा ...

                                               

भूवैज्ञानिक महाकल्प

भूवैज्ञानिक महाकल्प पृथ्वी के प्राकृतिक भूवैज्ञानिक इतिहास का एक भाग होता है। भूवैज्ञानिकों ने इस इतिहास को चार इओनों में विभाजित करा है, जो सभी आधे अरब वर्ष या उस से अधिक लम्बे हैं। यह इओन स्वयं महाकल्पों में विभाजित हैं, जो आगे कल्पों में बंटे ...

                                               

महास्कंध

पृथ्वी का अभ्यंतर पिघले हुए पाषाणों का आगार है। ताप एवं ऊर्जा का संकेंद्रण कभी-कभी इतना उग्र हो उठता है कि पिघला हुआ पदार्थ पृथ्वी की पपड़ी फाड़कर दरारों के मार्ग से बारह निकल आता है। दरारों में जमे मैग्मा के इन शैलपिंडों को नितुन्न शैल कहते हैं। ...

                                               

मैग्मा

मैग्मा चट्टानों का पिघला हुआ रूप है जिसकी रचना ठोस, आधी पिघली अथवा पूरी तरह पिघली चट्टानों के द्वारा होती है और जो पृथ्वी के सतह के नीचे निर्मित होता है। मैग्मा के बाहर निकलने वाले रूप को लावा कहते हैं। मैग्मा के शीतलन द्वारा आग्नेय चट्टानों का न ...

                                               

रिफ़्ट (भूविज्ञान)

रिफ़्ट भूविज्ञान में ऐसे क्षेत्र को कहते हैं जहाँ प्लेट विवर्तनिकी के कारण पृथ्वी के भूपटल और स्थलमंडल खिचने से फटकर अलग हो रहा हो। इस से अक्सर धरती पर वहाँ भ्रंश बनते हैं और रिफ्ट घाटियाँ बन जाती हैं। इनमें अफ़्रीका व मध्य पूर्व की ग्रेट रिफ़्ट ...

                                               

वलन

जब कोई तलछटी स्तर, मूल रूप से फ्लैट और समतल सतहों का ढेर तुला या घुमावदार स्थायी विकृति धारण कर लेता है तब परिणाम के रूप को सिलवटों भूविज्ञान कहा जाता है। ये सभी सिलवटों स्यूक्ष्म से लेकेर बहुत बड़े तक हो सकते है। ये सभी फोल्ड्स तनाव, हीड्रास्टाट ...

                                               

वाष्पखनिजन

शैलविज्ञान में वाष्पखनिजन का अर्थ है आग्नेय मैग्मा से वाष्पउन्मुक्ति तथा शैलसमूहों पर उसके प्रभाव। Pneumatolysis is the alteration of rock or mineral crystallization effected by gaseous emanations from solidifying magma.

                                               

विदलन (भूविज्ञान)

संरचना-भूविज्ञान तथा शैलविज्ञान में विदलन समतलीय शैल की एक विशेषता है जो विरूपण तथा कायान्तरण के कारण पैदा होती है।

                                               

वेधन (पृथ्वी)

किसी भी वस्तु या जगह पर यंत्रो द्वारा छेद करने की क्रिया को वेधन कहते हैं। कारखानों की यंत्रशाला में यंत्र के कलपुर्जों के निर्माण के लिए लोहा, पीतल आदि में छेद करने की कभी कभी आवश्यकता पड़ती है। इसके लिए वेधन अपनाया जाता है। वेधन का उपयोग भूविज् ...

                                               

संयुक्त राज्य भूगर्भ सर्वेक्षण

संयुक्त राज्य भूगर्भ सर्वेक्षण अमेरिकी सरकार की वैज्ञानिक संस्था है। यूएसजीएस के वैज्ञानिक अमेरिकी धरती, प्राकृतिक संसाधन और प्राकृतिक आपदाओं इत्यादि के बारे में शोधकार्य करते हैं। इस संस्था की चार प्रमुख विज्ञान शाखाएं है जो हैं: भूगोल, जीव विज् ...

                                               

सागर नितल प्रसरण

सागर नितल प्रसरण एक भूवैज्ञानिक संकल्पना है जिसमें यह अभिकल्पित किया गया है कि स्थलमण्डल समुद्री कटकों के सहारे प्लेटों में टूट कर इस कटकीय अक्ष के सहारे सरकता है और इसके टुकड़े एक दूसरे से दूर हटते हैं तथा यहाँ नीचे से मैग्मा ऊपर आकार नए स्थलमण् ...

                                               

सिन्टरण

चूर्ण से आरम्भ करके तथा दाब या ऊष्मा के द्वारा कोई ठोस पदार्थ बनाना सिन्टरण कहलाता है। सिंटरण, परमाणवीय विसरण diffusion पर आधारित है। सभी पदार्थों में परम शून्य ताप से अधिक ताप पर विसरण होता है किन्तु अधिक ताप पर विसरण अधिक तेजी से होता है। इसी ब ...

                                               

स्तर विज्ञान

स्तर विज्ञान भूविज्ञान की एक शाखा है। यह चहट्टानो की परतों के अध्ययन मे उपयोग की जाती है। यह मुख्य रूप से तलछटी और स्तरित ज्वालामुखी चट्टानों के अध्ययन में प्रयोग की जाती है।

                                               

स्तरिकी

स्तरित शैलविज्ञान या स्तरिकी भौमिकी की वह यह शाखा है जिसके अंतर्गत पृथ्वी के शैलसमूहों, खनिजों और पृथ्वी पर पाए जानेवाले जीव-जंतुओं का अध्ययन होता है। पृथ्वी के धरातल पर उसके प्रारम्भ से लेकर अब तक हुए विभिन्न परिवर्तनों के विषय में स्तरित शैलविज ...

                                               

विश्व के सभी देश

यह विश्व के देशों की सूची, एक सिंहावलोकन कराती है, विश्व के राष्ट्रों का, जो कि देवनागरी वर्णक्रमानुसार व्यवस्थित है। इसमें स्वतंत्र राज्य भी सम्मिलित हैं। जो कि अन्तराष्ट्रीय मान्यताप्राप्त हैं और जो अमान्यता प्राप्त, हैं, बसे हुए हैं परतंत्र क् ...

                                               

विश्व भ्रमण टिकट

विश्व भ्रमण टिकट यात्रियों के लिए एक अपेक्षाकृत कम कीमत में विश्व भ्रमण हेतु सक्षम बनाने वाला माध्यम है। यह योजना कुछ समय के लिए ही अस्तित्व में है। पूर्व के दिनों में आम तौपर कई महाद्वीपों पर विमान सेवाओं के बीच विपणन समझौतों के माध्यम से ही इस ...

                                               

विश्व शान्ति और अहिंसा

विश्व शांति सभी देशों और/या लोगों के बीच और उनके भीतर स्वतंत्रता, शांति और खुशी का एक आदर्श है। विश्व शांति पूरी पृथ्वी में अहिंसा स्थापित करने का एक विचार है, जिसके तहत देश या तो स्वेच्छा से या शासन की एक प्रणाली के जरिये इच्छा से सहयोग करते हैं ...

                                               

२००९ (विश्व)

मेलबोर्न में आस्ट्रेलिया की न्यायधीश जस्टिस एलिजाबेथ कर्टेन ने पिछले साल एक भारतीय टैक्सी ड्राइवर जलविंदर सिंह पर हमले में आरोपी आस्ट्रेलियाई नागरिक पैरिश चेल्स को दोषी करार देते हुए उसे साढ़े छह साल की कैद की सजा सुनाई। श्रीलंका के सेना प्रमुख ज ...

                                               

ऊष्णकटिबन्ध

ऊष्ण कटिबंध दुनिया का वह ताप-कटिबंध है जो उत्तर में कर्क रेखा और दक्षिण में मकर रेखा के बीच भूमध्य रेखा के आसपास स्थित है। यह अक्षांश पृथ्वी के अक्षीय झुकाव से संबन्धित है। कर्क और मकर रेखाओं में एक सौर्य वर्ष में एक बाऔर इनके बीच के पूरे क्षेत्र ...

                                               

1 अक्षांश उत्तर

1 अक्षांश उत्तर पृथ्वी की भूमध्यरेखा के उत्तर में 1 अक्षांश पर स्थित अक्षांश वृत्त है। यह काल्पनिक रेखा हिन्द महासागर, प्रशांत महासागर व अटलांटिक महासागर और दक्षिण अमेरिका, दक्षिणपूर्वी एशिया व अफ़्रीका के भूमीय क्षेत्रों से निकलती है।

                                               

1 अक्षांश दक्षिण

1 अक्षांश दक्षिण पृथ्वी की भूमध्यरेखा के दक्षिण में 1 अक्षांश पर स्थित अक्षांश वृत्त है। यह काल्पनिक रेखा हिन्द महासागर, प्रशांत महासागर व अटलांटिक महासागर और दक्षिण अमेरिका, ओशिआनिया व अफ़्रीका के भूमीय क्षेत्रों से निकलती है।

                                               

1 रेखांश पश्चिम

1 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 1 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, अटलांटिक महासागर, यूरोप, अफ़्रीका, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है ...

                                               

1 रेखांश पूर्व

1 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 1 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, अटलांटिक महासागर, यूरोप, अफ़्रीका, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। ...

                                               

10 अक्षांश उत्तर

10 अक्षांश उत्तर पृथ्वी की भूमध्यरेखा के उत्तर में 10 अक्षांश पर स्थित अक्षांश वृत्त है। यह काल्पनिक रेखा हिन्द महासागर, प्रशांत महासागर व अटलांटिक महासागर और दक्षिण अमेरिका, मध्य अमेरिका, दक्षिणपूर्वी एशिया व अफ़्रीका के भूमीय क्षेत्रों से निकलत ...

                                               

10 अक्षांश दक्षिण

10 अक्षांश दक्षिण पृथ्वी की भूमध्यरेखा के दक्षिण में 10 अक्षांश पर स्थित अक्षांश वृत्त है। यह काल्पनिक रेखा हिन्द महासागर, प्रशांत महासागर व अटलांटिक महासागर के दक्षिणी भाग और दक्षिण अमेरिका, ओशिआनिया व अफ़्रीका के भूमीय क्षेत्रों से निकलती है।

                                               

10 रेखांश पश्चिम

10 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 10 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, अटलांटिक महासागर, यूरोप, अफ़्रीका, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ...

                                               

10 रेखांश पूर्व

10 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 10 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, अटलांटिक महासागर, यूरोप, अफ़्रीका, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है ...

                                               

100 रेखांश पश्चिम

100 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 100 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

100 रेखांश पूर्व

100 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 100 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 80 रेख ...

                                               

101 रेखांश पश्चिम

101 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 101 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

101 रेखांश पूर्व

101 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 101 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 79 रेख ...

                                               

102 रेखांश पश्चिम

102 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 102 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

102 रेखांश पूर्व

102 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 102 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 78 रेख ...

                                               

103 रेखांश पश्चिम

103 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 103 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

103 रेखांश पूर्व

103 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 103 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 77 रेख ...

                                               

104 रेखांश पश्चिम

104 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 104 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

104 रेखांश पूर्व

104 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 104 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 76 रेख ...

                                               

105 रेखांश पश्चिम

105 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 105 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

105 रेखांश पूर्व

105 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 105 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 75 रेख ...

                                               

106 रेखांश पश्चिम

106 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 106 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

106 रेखांश पूर्व

106 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 106 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 74 रेख ...

                                               

107 रेखांश पश्चिम

107 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 107 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

107 रेखांश पूर्व

107 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 107 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 73 रेख ...

                                               

108 रेखांश पश्चिम

108 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 108 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...

                                               

108 रेखांश पूर्व

108 रेखांश पूर्व पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पूर्व में 108 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, एशिया, हिन्द महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती है। यह 72 रेख ...

                                               

109 रेखांश पश्चिम

109 रेखांश पश्चिम पृथ्वी की प्रधान मध्याह्न रेखा से पश्चिम में 109 रेखांश पर स्थित उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक चलने वाली रेखांश है। यह काल्पनिक रेखा आर्कटिक महासागर, उत्तर अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिणी महासागर और अंटार्कटिका से गुज़रती ह ...