Blog पृष्ठ 283




                                               

डी॰ सी॰ अवंती

डी॰ सी॰ अवन्ती एक आगामी भारतीय स्पोर्ट्स कार है। यह भारत में निर्मित पहली पूर्ण स्वदेशी स्पोर्ट्स कार है जिसे ऑटो एक्सपो 2012 में पहली बार अमिताभ बच्चन द्वारा अनावरित किया गया था। इसे भारत के जाने माने डिज़ाइनर दिलिप छाबड़िया के डी॰ सी॰ डिज़ाइन न ...

                                               

भारत में उपलब्ध कारों की सूची

This is a भारत में उपलब्ध कारों की सूची. एक बंद हुए वाहनों की सूची अंत में दी है, अतिरिक्त सूचनार्थ। इन्हें भी देखें: भारतीय मोटर-गाडी़ उद्योग

                                               

महिंद्रा ज़ायलो

महिंद्रा ज़ायलो एक बहु-उपयोगी वाहन है जिसका निर्माण महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड द्वारा किया गया है। ज़ायलो का अनावरण १३ जनवरी २००९ में नाशिक में किया गया था। इसके चार प्रकार उपलब्ध है- इ२, इ४, इ६ और इ८ जो साँचा:Indian rupee ७१२,३००-९४०,००० के ब ...

                                               

सेडान मोटरगाङी

सेडान या सलुन शैली कार के बाहरी ढ़ांचे के निर्माण की एक लोकप्रिय शैली है। इस शैली मे चालक एवम सवारी के लिये दो कतार मे बैठने का स्थान होता है। गाड़ी के पिछले भाग मे समान रखने के लिये एक डब्बानुमा क्क्ष होता है जिसे आम बोलचाल की भाषा मे डिक्की और ...

                                               

हैचबैक मोटरगाड़ी

हैचबैक मोटरगाड़ी किसी भी कार के बाहरी ढाँचे के निर्माण की एक लोकप्रिय शैली है। इस शैली की गाड़ियों में सामान्यतः पाँच दरवाजे होते है। दो दरवाजे चालक की तरफ़ एवं दो दरवाजे यात्रियों की बगल में होते हैं। पाँचवाँ दरवाजा गाड़ी के पृष्ठ भाग में होता ह ...

                                               

क्रैंक

क्रैंएक मेकेनिज्म है जो किसी घूमने वाले शाफ्ट के लम्बवत जुड़ा होता है। इसके माध्यम से घूर्णी गति को प्रत्यागमनी गति में या प्रत्यागमनी गति को घूर्णी गति में बदला जाता है।

                                               

जैक

जैएक यांत्रिक युक्ति है जो भारी वस्तुओं को उठाने या अधिक बल लगाने के लिये प्रयुक्त होता है। यांत्रिक जैक में भारी चीजों को उठाने के लिये स्क्रू चूड़ियाँ का उपयोग किया जाता है। कार, ट्रक आदि के पहिये निकालने के लिये प्रयुक्त जैक इसका उदाहरण है। या ...

                                               

इंस्टिट्यूशन ऑव इंजीनियर्स (इंडिया)

इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स भारत के अभियन्ताओं का राष्ट्रीय संगठन है। इसके ९९ केन्द्रों में १५ इंजीनियरी शाखाओं के लगभग ५ लाख सदस्य हैं। यह विश्व की सबसे बड़ी बहुविषयी इंजीनियरी व्यावसायिक सोसायटी है। वर्तमान समय में इसका मुख्यालय कोलकाता में है।

                                               

भारतीय आविष्कारों की सूची

यहाँ पर भारत के दीर्घ सांस्कृतिक एवं प्रौद्योगिकीय इतिहास में भारत में की गयी खोजों, नवाचारों एवं अनुसंधानों की सूची एकत्र की गयी है। भारत में विकसित या आविष्कृत कुछ वस्तुएँ निम्नलिखित हैं- बटन, काजल, कैलिको, चतुरंग, छींट Chintz, क्रेस्कोग्राफ, क ...

                                               

राष्ट्रिय गणित दिवस

भारत सरकार ने 22 दिसंबर को राष्ट्रीय गणित दिवस घोषित किया।भारत के 14वें और तात्कालिक प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 26 फरवरी 2012 को मद्रास विश्वविद्यालय में भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन के जन्म की 125 वीं वर्षगांठ के समारोह के उद्घाटन समारोह क ...

                                               

राष्ट्रीय नवप्रवर्तन संस्थान

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार का स्वायत्तशासी संस्थान राष्ट्रीय नवप्रवर्तन प्रतिष्ठान- भारत, भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग का स्वायत्तशासी संस्थान है। इसका मुख्यालय भारत के गुजरात राज्य के गांधीनगर शहर में स्थित है। हन ...

                                               

राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला, भारत

राष्ट्रीय भौतिकी प्रयोगशाला, भारत में नई दिल्ली में स्थित देश की मापन्मानक प्रयोगशाला है। ये भारत में एस आई इकाइयों का अनुरक्षण तथा राष्ट्रीय भार तथा माप के मानकों का कैलीब्रेशन करती है। इस प्रयोगशाला की स्थापना वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान पर ...

                                               

राष्ट्रीय रासायनिकी प्रयोगशाला

राष्ट्रीय रासायनिकी प्रयोगशाला पुणे स्थित भारत की सरकारी प्रयोगशाला है। एन.सी.एल नाम से प्रचलित इस प्रयोगशाला की स्थापना 6 अप्रैल 1947 में हुई थी। 3 जनवरी 1950 को पं जवाहरलाल नेहरु ने इसे राष्ट्र को समर्पित किया था। यहां के प्रथम निदेशक डॉ॰जे.डब् ...

                                               

राष्‍ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्‍थान

राष्‍ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्‍थान भारत सरकार के पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय के तकनीकी स्‍कन्‍ध के रूप में विद्यमान है। यह संस्‍थान समुद्र के संसाधनों की फसल काटने से संबंधित तकनीकी विकासात्‍मक गतिविधियां संचालित करने के काम में लगा हुआ है। इस ...

                                               

विक्रम ए साराभाई समुदाय विज्ञान केंद्र

विक्रम ए साराभाई समुदाय विज्ञान केन्द्र जिसे साधारणतया स्थानीय लोग सीएससी भी कहते हैं, की स्थापना १९६० के दशक में गुजरात के अहमदाबाद शहर में भारतीय अन्तरिक्ष वैज्ञानिक विक्रम साराभाई द्वारा की गयी थी। यह केन्द्र विद्यार्थियों, शिक्षकों एवं जनसाधा ...

                                               

आविष्कार (पत्रिका)

आविष्कार हिंदी की एक विज्ञान पत्रिका है। यह नेशनल रिसर्च डेवलेपमेंट कॉर्पोरेशन, नई दिल्‍ली द्वारा प्रकाशित होती है। इसका मुख्य उद्देश्य सूचना का प्रसार करना और नई प्रौद्योगिकी, खोज, नवीनताओं, बौद्धिक संपदा अधिकारसे जुड़े मुद्दों आदि के बारे में आ ...

                                               

जर्नल ऑफ़ हाई एनर्जी फिजिक्स

जर्नल ऑफ़ हाई एनर्जी फिजिक्स उच्च ऊर्जा भौतिकी के क्षेत्र को समाविष्ट करने वाला सहकर्मी समीक्षा वैज्ञानिक पत्रिका है। यह इंटरनेशनल स्कूल फॉर एडवांस्ड स्टडीज की ओर से स्प्रिंगर विज्ञान + व्यापार मीडिया द्वारा प्रकाशित होता है।

                                               

बेल बोइंग वी-२२ ऑस्प्री

बेल बोइंग वी -22 ऑस्प्री एक अमेरिकी बहु-मिशन, टिल्टरोटर सैन्य विमान है जिसमें ऊर्ध्वाधर टेकऑफ़ और लैंडिंग, और शॉर्ट टेकऑफ़ और लैंडिंग क्षमता दोनों हैं। यह टर्बोप्रॉप विमान की लंबी दूरी, उच्च गति क्रूज प्रदर्शन के साथ एक पारंपरिक हेलीकॉप्टर की कार ...

                                               

बोइंग c-17 ग्लोबमास्टर

बोइंग c-17 ग्लोबमास्टर यह विश्व के बड़े मालवाहक जहाजों में से एक है। ग्लोबमास्टर कारगिल, लद्दाख और अन्य उत्तरी और उत्तर पूर्वी सीमाओं जैसे कठिन जगहोंपर आसानी से उतर सकता है। इसके अलावा लैंडिंग में परेशानी होने की स्थिति में इसमें रिवर्स गियर भी द ...

                                               

विमानक्षेत्र सन्दर्भ बिन्दु

विमानक्षेत्र सन्दर्भ बिन्दु किसी विमानक्षेत्र का केन्द्र बिन्दु होता है। यह प्रयोगनीय उड़ानपट्टियों के ज्यामितीय केन्द्र बिन्दु पर स्थित होता है। एआरपी की गणना उड़ानपट्टियों के छोर के निर्देशांकों के भारित मान के औसत से की जाती है। अंतरराष्ट्रीय ...

                                               

हाइपरसॉनिक

एयरोडायनामिक्स में हाइपरसॉनिक गति वह गति है जो बहुत ज्यादा सुपरसॉनिक है। 1970 से इस शब्द को सामान्यतः 5 मैक या उससे अधिक गति के लिए प्रयोग किया जाता है। सटीक मैक संख्या जिसपर विमान उड़ान भरता है वह अलग-अलग होती है क्योंकि प्रत्येक यान में मैक 5 क ...

                                               

दूरदर्शी

दूरदर्शी वह प्रकाशीय उपकरण है जिसका प्रयोग दूर स्थित वस्तुओं को देख्नने के लिये किया जाता है। दूरदर्शी से सामान्यत: लोग प्रकाशीय दूरदर्शी का अर्थ ग्रहण करते हैं, परन्तु दूरदर्शी विद्युतचुंबकीय वर्णक्रम के अन्य भागों मै भी काम करता है जैसे X-रे दू ...

                                               

जेम्स वेब खगोलीय दूरदर्शी

जेम्स वेब अंतरिक्ष दूरदर्शी) एक प्रकार की अवरक्त अंतरिक्ष वेधशाला है। यह हबल अंतरिक्ष दूरदर्शी का वैज्ञानिक उत्तराधिकारी और आधुनिक पीढ़ी का दूरदर्शी है, जिसे जून २०१४ में एरियन ५ राकेट से प्रक्षेपित किया जाएगा। इसका मुख्य कार्य ब्रह्माण्ड के उन स ...

                                               

तीस मीटर टेलीस्कोप

तीस मीटर टेलीस्कोप, माउना कीआ, हवाई मे स्थापित होने जा रहा दुनिया का सबसे बड़ा ऑप्टिकल टेलीस्कोप है | हवाई के बोर्ड ऑफ नेचुरल रिसोर्स ने इसके निर्माण की मंजुरी दी है | अगली पीढ़ी के इस टेलीस्कोप में तीस मीटर का दर्पण लगा होगा | इसी कारण इसका नाम ...

                                               

स्पिट्ज़र अंतरिक्ष दूरदर्शी

स्पिट्ज़र अंतरिक्ष दूरदर्शी, एक खगोलीय दूरदर्शी है जो अंतरिक्ष में कृत्रिम उपग्रह के रूप में स्थित है। यह ब्रह्माण्ड की विभिन्न वस्तुओं की अवरक्त प्रकाश में जाँच करता है। इसे सन् २००३ में रॉकेट के ज़रिये अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसन्धान संस्था नासा ने ...

                                               

हबल अंतरिक्ष दूरदर्शी

हबल अंतरिक्ष दूरदर्शी) वास्तव में एक खगोलीय दूरदर्शी है जो अंतरिक्ष में कृत्रिम उपग्रह के रूप में स्थित है, इसे २५ अप्रैल सन् १९९० में अमेरिकी अंतरिक्ष यान डिस्कवरी की मदद से इसकी कक्षा में स्थापित किया गया था। हबल दूरदर्शी को अमेरिकी अंतरिक्ष एज ...

                                               

वर्णक्रममापी

वर्णक्रममापी विद्युत चुम्बकीय वर्णक्रम के एक विशिष्ट भाग के लिए प्रकाश की विशेषतायों के मापन हेतु उपयोग किया जाना वाला यंत्र है जो आम तौपर सामग्री की पहचान के लिए स्पेक्ट्रोस्कोपी विश्लेषण में इस्तेमाल किया जाता है। मापित चर अक्सर प्रकाश की तीव्र ...

                                               

अनुसंधान

व्यापक अर्थ में अनुसन्धान किसी भी क्षेत्र में ज्ञान की खोज करना या विधिवत गवेषणा करना होता है। वैज्ञानिक अनुसन्धान में वैज्ञानिक विधि का सहारा लेते हुए जिज्ञासा का समाधान करने की कोशिश की जाती है। नवीन वस्तुओं की खोज और पुराने वस्तुओं एवं सिद्धान ...

                                               

अनुसन्धान संस्थान

अनुसंधान संस्थाउन संस्थानों को कहते हैं जिनकी स्थापना किसी विशेष क्षेत्र में अनुसन्धान करने के लिए की गयी हो। अनुसंधान संस्थान, मूलभूत अनुसंधान में विशेषज्ञता प्राप्त कर सकते हैं या अनुप्रयुक्त अनुसंधान में। यद्यपि अनुसंधान से अभिप्राय प्राकृतिक ...

                                               

एलएचसी-बी

एलएचसी-बी या एलएचसी-ब्यूटी का पूर्ण नाम लार्ज हैड्रॉन कोलाइडर - ब्यूटी है। यह सर्न लार्ज हैड्रान कोलाइडर नामक त्वरक पर आँकड़े इकट्ठा करने वाले ७ कण भौतिकी प्रयोगो में से एक है। एलएचसी-बी विशेष रूप से बी-भौतिकी के अध्ययन के लिए बनाया गया प्रयोग है ...

                                               

ऐलिस प्रयोग

ऐलिस प्रयोग का पूर्ण नाम ए लार्ज आयन कोलाइडर एक्सप्रिमेंट जिसका हिन्दी अनुवाद एक विशाल आयन संघट्ट प्रयोग) है। यह सर्न लार्ज हैड्रान कोलाइडर नामक त्वरक पर आँकड़े इकट्ठा करने वाले ७ कण भौतिकी प्रयोगो में से एक है। यह भारी आयनों की टक्कर के अध्ययन क ...

                                               

डार्क मैटर

खगोलशास्त्र तथा ब्रह्माण्ड विज्ञान में आन्ध्र पदार्थ या डार्क मैटर एक,प्रायोगिक आधापर अप्रमाणित परंतु गणितीय आधापर प्रमाणित, पदार्थ है। इसकी विशेषता है कि अन्य पदार्थ अपने द्वारा उत्सर्जित विकिरण से पहचाने जा सकते हैं किन्तु आन्ध्र पदार्थ अपने द् ...

                                               

प्रयोग

किसी वैज्ञानिक जिज्ञासा के समाधान के लिये उससे सम्बन्धित क्षेत्र में और अधिक आंकड़े एकत्र करने की आवश्यकता होती है। इन आंकड़ों की प्राप्ति के लिये जो कुछ किया जाता है उसे प्रयोग कहते हैं। प्रयोग, वैज्ञानिक विधि का प्रमुख स्तम्भ है। प्रयोग करना एव ...

                                               

बेल प्रयोग

बेल प्रयोग, बेल सहयोग द्वारा संचालित एक उच्च ऊर्जा भौतिकी प्रयोग है, जिसमें विभिन्न देशों के ४०० से भी अधिक वैज्ञानिक और अभियंता कार्य करते हैं। यह जापान के इबारकी प्रान्त के त्सुकुबा नगर मे स्थित है। बेल प्रयोग, KEKB नामक e+e− असममितिक त्वरक पर ...

                                               

महाविज्ञान

महाविज्ञान से आशय वृहद आकार की वैज्ञानिक परियोजना से है जो राष्ट्रीय सरकारों द्वारा या कई सरकारों द्वारा मिलकर वित्तपोषित होतीं हैं। इसका चलन द्वितीय विश्वयुद्ध के समय औद्योगिक देशों में देखने को मिला। उदाहरण के लिए वृहद् हेड्रॉन कोलाइडर, जिसका ब ...

                                               

माताप्रसाद गुप्त

डॉ॰ माताप्रसाद गुप्त का जन्म 1909 ई० में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के मुँगरा बादशाहपुर में हुआ था। उनकी उच्च शिक्षा प्रयाग विश्वविद्यालय में हुई थी। एम॰ए॰ के अतिरिक्त उन्होंने एल॰एल॰बी॰ की डिग्री भी प्राप्त की थी तथा उन्हें डि॰लिट्॰ की उपाधि से ...

                                               

मुक्त अनुसन्धान

मुक्त अनुसन्धान का ध्येय अनुसन्धान को और अधिक पारदर्शी बनाना, और अधिक सहकारी बनाना, तथा और अधिक दक्ष बनाना है। इसका मुख्य मुद्दा वैज्ञानिक सूचना तक मुक्त पहुँच प्रदान करना है, विशेष रूप से बड़े-बड़े विद्वतापूर्ण जर्नलों तथा उनसे सम्बन्धित आंकड़ों ...

                                               

मूलभूत अनुसंधान

प्राकृतिक परिघटनाओं एवं अन्य परिघटनाओं की समझ को उन्नत बनाने की दिशा में किये गये वैज्ञानिक अनुसंधान को मूलभूत अनुसन्धान कहते हैं। इसे शुद्ध विज्ञान और मूलभूत विज्ञान भी कहते हैं।

                                               

रामकथा: उत्पत्ति और विकास

रामकथा: उत्पत्ति और विकास हिन्दी में एक शोधपत्र है जिसे फादर कामिल बुल्के ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में डी-फिल के लिये डाॅ० माताप्रसाद गुप्त के निर्देशन में प्रस्तुत किया था। इसे रामकथा सम्बन्धी समस्त सामग्री का विश्वकोष कहा जा सकता है। सामग्री क ...

                                               

विवरणात्मक अनुसंधान

विवरणात्मक अनुसंधान - इस प्रकार के शोध के अंतर्गत अध्ययन के समय जो परिस्थितियाँ हैं उनका उसी रूप में शोधार्थी द्वारा प्रस्तुतीकरण किया जाता है। इसमें तथ्यों का संकलन महत्वपूर्ण होता है। इसे वर्णनात्मक अनुसंधान की संज्ञा भी दी जाती है। इस प्रकार क ...

                                               

शोधपत्र

शोधपत्र, शैक्षणिक प्रकाशन की एक विधि है। इसमें किसी शोध-पत्रिका में लेख प्रकाशित किया जाता है या किसी संगोष्ठी में किसी विषय पर एक लेख पढ़ा जाता है। प्राय: शोधपत्रों का प्रकाशन कुछ विशेषज्ञों द्वारा समीक्षा करने/जाँचने के बाद ही सम्भव हो पाता है।

                                               

शोधार्थी के गुण

शोधार्थी के गुण - शोध एक दायित्वपूर्ण कार्य है अतः उसे करने के लिए किसी भी शोधार्थी में विभिन्न गुणों की अपेक्षा की जाती है। अच्छे शोधार्थी के अभाव में एक अच्छा शोध-प्रबंध निर्मित नहीं हो सकता है। शोधकर्ता में अपेक्षित गुणों की आवश्यकता पर बल देत ...

                                               

सामाजिक अनुसंधान

बहुत दिनों तक मनुष्य ने सामाजिक घटनाओं की व्याख्या, पारलौकिक शक्तियों, कोरी कल्पनाओं और तर्क-वाक्यों के श्कारगत सत्यों के आधापर की है। सामाजिक अनुसंधान का बीजारोपण वहीं से होता है जहाँ वह अपनी व्याख्या के संबंध में संदेह प्रकट करना प्रारंभ करता ह ...

                                               

सीएमएस प्रयोग

सीएमएस या कॉम्पैक्ट म्यूऑन सोलेनोइड या सुसम्बद्ध म्यूऑन परिनालिका प्रयोग स्विट्जरलैंड और फ्रान्स में सर्न में स्थित लार्ज हैड्रान कोलाइडर पर बने दो बृहद् व्यापक प्रयोजन कण भौतिकी संसूचकों में से एक है। सीएमएस प्रयोग का उद्देश्य हिग्स बोसॉन, अधि-व ...

                                               

गाइगर-मूलर काउन्टर

गाइगर-मुलर काउंटर एक यंत्र है जो आयनकारी विकिरण की मात्रा को नापता है। यह यंत्र शीशे की एक नली में बंद धातु के पतले सिलेंडर के ढंग का होता है। धातु की दीवार एक इलेक्ट्रोरॉड का काम करती है और सिलेंडर में लगा सीधा तार दूसरे इलेक्ट्रोरॉड का। इलेक्ट् ...

                                               

बुन्सेन बर्नर

बुन्सेन ज्वालक या बुन्सेन बर्नर एक विशेष प्रकार का गैस ज्वालक है। गैस को जलाने से पूर्व इसमें हवा की एक निश्चित मात्रा मिलाने की युक्ति होती है। ऐसा करने के लिए इसमें एक नली रहती हैं, जिसके आधार के पास पार्श्व में हवा आने के लिए छिद्र होते हैं। ग ...

                                               

उष्णकटिबन्धीय वन अनुसंधान संस्थान, जबलपुर

उष्णकटिबंधीय वन अनुसंधान संस्थान, जबलपुर भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद के अधीन आठ क्षेत्रीय संस्थानों में से एक है। संस्थान 1988 में अस्तित्व में आया। संस्थान मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ, महाराष्ट्र तथा उड़ीसा सहित मध्य क्षेत्र के उष्णकटिबंधी ...

                                               

वृक्षसंवर्धन

पेड़ों, झाड़ियों, लताओं एवं अन्य काष्ठीय पौधों की खेती, प्रबन्धन एवं अध्यन को वृक्षसंवर्धन कहते हैं। यह एक विज्ञान भी है और व्यवहार भी।

                                               

वृक्षारोपण

नवोद्भिद को एक स्थान से खोदकर दूसरे स्थान पर लगाने की प्रक्रिया को वृक्षारोपण कहते हैं। वृक्षारोपण की प्रक्रिया एक तरफ बड़े वृक्षो के रोपण की प्रक्रिया से अलग है तो दूसरी तरफ बीज बोकर पेड़ उगाने की प्रक्रिया से भी भिन्न है। किसी भी प्रकार के पेड़ ...

                                               

वृक्षों की काट-छाँट

काट-छांट उद्यानिकी तथा वनवर्धन में प्रयुक्त कार्य है जिसमें पौधों/पेड़ों के कुछ भागों को चुनकर काटकर हटा दिया जाता है।