Blog पृष्ठ 286




                                               

बुनियाद

दीवार, खंभे तथा भवन और पुलों के आधारस्तंभों का भार उनकी नींव अथवा बुनियाद द्वारा पृथ्वी पर वितरित किया जाता है। अत: निर्माण कार्य में बुनियाद, बहुत महत्वपूर्ण अंग है। अगर बुनियाद कमजोर हो, तो पूरे भवन अथवा पुल के भारवाहन की शक्ति बहुत कम हो जाती ...

                                               

स्तम्भ

वास्तु तथा संरचना इंजीनियरी में स्तम्भ वह संरचनात्मक अवयव है जो स्वयं संपीडित होकर अपने ऊपर आने वाले छत आदि का भार अपने नीचे के अवयवों पर ट्रांसफर कर देता है। अतः स्तम्भ एक संपीडन अवयव है जो उर्ध्वाधर खड़ा रहता है। किन्तु भूकम्प इंजीनियरी की दृष् ...

                                               

कम्पन

स्पंदन संस्कृत का एक शब्द है हिन्दी में इसके शाब्दिक अर्थ हैं:- गतिमान होना, दोलायित होना हिलना, आम बोलचाल की भाषा में स्पंदन का प्रयोग धड़कना के अर्थ में भी होता है।

                                               

तंतु कम्पन

तंतु कम्पन किसी तंतु में होने वाले कम्पन को कहते हैं, जो एक तरंग होती है। अनुनाद के कारण तंतु से स्थाई आवृत्ति वाली ध्वनि उत्पन्न होती है। अगर तंतु की लम्बाई और तनाव को सही रखा जाए तो इस कम्पन से संगीत स्वर उत्पन्न होता है।

                                               

सेतु

पुलों का लंबा इतिहास रहा है। ज्ञात इतिहास के अनुसार पहली और दूसरी सदी में रोमनकाल की वास्तुकला में पुलों का निर्माण भी शामिल था। उस जमाने में अधिकांश पुल खाइयों के ऊपर लकड़ी से बनाए जाते थे। 12वीं सदी में ऐसे पुल बनाए जाने लगे जिनमें साथ में घर भ ...

                                               

रज्जु कर्षण सेतु

रज्जु कर्षण सेतु, सेतुओं का एक प्रकार होता है। इसमें एक या अधिक स्तंभ होते हैं, जो स्तंभ इस्पात रज्जुओं द्वारा सेतु की सतह का भार संभालते हैं। इसके तीन मुख्य उप-भेद होते हैं:- हार्प आकार इसमें सभी केबल समानांतर होते हैं, व स्तंभ में विभिन्न दूरिय ...

                                               

जलवाही सेतु

किसी नदी, नाले अथवा घाटी पर पुल बनाकर उसपर से यदि कोई कृत्रिम जलधारा ले जाई जाती है, तो उस पुल को जलवाही सेतु या जलसेतु कहते हैं । इंजीनियरी, विज्ञान और उद्योग का विकास हो जाने से आजकल बड़े बड़े व्यास के नल कंक्रीट या लोहे के बनाए जाते हैं। अत: ज ...

                                               

बैस्क्यूल सेतु

बैस्क्यूल सेतु या फ़ोल्डिंग सेतु एक प्रकार का सेतु है जिसमे सेतु के मध्य में एक लिफ्ट लगा दिया जाता है। इस का प्रयोग प्रायः ऐसे सेतु में होता है जहाँ से समुद्री जहाज़ या नाव गुज़रती है। वैसे तो यह सेतु सड़क वाहन क लिए खुला रहता है लेकिन जब वहाँ स ...

                                               

सबसे लम्बे चाप सेतु

यहाँ विश्व के कुछ सर्वाधिक लम्बे चाप सेतुओं की सूची दी गयी है। चाप सेतुओं को प्रायः उनके मुख्य विस्तृति की लम्बाई के अनुसार श्रेणीकृत किया जाता है।

                                               

किंडरगार्टन (बालवाड़ी)

किंडरगार्टन छोटे बच्चों के लिए शिक्षा का एक रूप है जो घरेलू शिक्षा से बदल कर अधिक औपचारिक स्कूली शिक्षा में संक्रमित हो गया है। एक और परिभाषा, जो प्रारंभिक बचपन की शिक्षा और प्रीस्कूल को बताती है, के अनुसार यह 6 और 7 साल से कम उम्र के बच्चों का प ...

                                               

ध्यान की लालसा

ध्यान की लालसा अथवा अवधान पिपासा ऐसा मानव व्यवहार है जिसमेंं व्यक्ति किंचित क्रिया कलापों अथवा हाव-भाव के माध्यम से लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करना चाहता है। जहाँ ऐसा व्यवहार अयाचित एवं अनुपयुक्त माना जाता है वहीं इस पद को निंदात्मक अथवा नकार ...

                                               

बच्चों में मोटापा

बाल्यकाल स्थूलता एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर में उपस्थित अतिरिक्त वसा बच्चे के स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित करती है। चूंकि प्रत्यक्ष रूप से शारीरिक वसा के मापन की विधियां कठिन हैं, मोटापे या स्थूलता का निदान अक्सर बीएमआई पर आधारित होता ...

                                               

बाल पत्रकारिता

बाल पत्रकारिता की सुदीर्घ परम्परा को एक आलेख में समेटना निश्चय ही अंजलि में समुद्भर लेने के समान है। बाल साहित्य की अनेक पत्रिकाएँ विगत पचास वर्षों में प्रकाशित हुई हैं। इन प्रकात्रिओं का सही-सही विवरण दे पाना एक दुरूह कार्य है। बाल साहित्य की पत ...

                                               

बाल विकास

बाल विकास, मनुष्य के जन्म से लेकर किशोरावस्था के अंत तक उनमें होने वाले जैविक और मनोवैज्ञानिक परिवर्तनों को कहते हैं, जब वे धीरे-धीरे निर्भरता से और अधिक स्वायत्तता की ओर बढ़ते हैं। चूंकि ये विकासात्मक परिवर्तन काफी हद तक जन्म से पहले के जीवन के ...

                                               

बाल संस्कार

शिशु के जन्म से लेकर उसके वयस्क होने तक उसे शिक्षित एवं संस्कारित करना पालन-पोषण या बाल संस्कार कहलाता है। अधिकांश शिशु एवं बालक/बालिका अपने माता-पिता के साथ रहते हैं। कुछ शिशुओं के साथ उनके दादा-दादी या नाना-नानी भी रहते हैं। किन्तु कुछ स्थितियो ...

                                               

लड़की

वयस्कों के लिए उपयोग लड़की शब्द का कभी कभी प्रयोग एक वयस्क महिला के संदर्भ में किया जाता है। इसका प्रयोग कुछ व्यावसायिक या अन्य औपचारिक संदर्भों में आपत्तिजनक और अपमानजनक हो सकता है, जैसे लड़का शब्द उपेक्षा व्यक्त करने के लिए किसी वयस्क व्यक्ति क ...

                                               

युवावस्था

युवावस्था शारीरिक परिवर्तनों की प्रक्रिया है जिसके द्वारा बच्चे का शरीर प्रजनन क्षमता से युक्त वयस्क के शरीर में बदल जाता है। युवावस्था मस्तिष्क द्वारा यौन अंगों को हार्मोन संकेत भेजे जाने से शुरू होती है। जवाब में, यौन अंग विभिन्न तरह के हार्मोन ...

                                               

बेघर युवा

बेघर युवा विकासशील देशों और विभिन्न विकसित देशों का एक वैश्विक सार्थक सामाजिक मुद्दा है। विकासशील देशों में इसपर शोध और अध्ययन मुख्यतः "पथ शिशुओं" पर केन्द्रित होता है जबकि विकसित देशों में यह अध्ययन उन युवाओं पर केन्द्रित रहता है जो घरेलू सम्बंध ...

                                               

विश्व युवा दिवस

विश्व युवा दिवस कैथोलिक गिरजाघरों द्वारा आयोजित युवाओं के लिए की जाने वाली घटना है। अगले वर्ष का विश्व युवा दिवस पनामा में मनाया जायेगा।

                                               

वयस्क

वयस्क शब्द के तीन भिन्न अर्थ होते है। पहला: यह एक पूर्ण विकसित व्यक्ति को दर्शाता है, दूसरा: यह एक पौधे या जानवर को भी इंगित करता है जिसने पूर्ण विकास कर लिया हो तीसरा: किसी काम के लिये व्यक्ति ने एक कानूनी उम्र प्राप्त कर ली हो । यह नाबालिग का व ...

                                               

कार्यालय

कार्यालय या दफ्तर एक कमरा या इमारत होती है जिसका प्रयोग मुख्य रूप से लिपीकीय या प्रशासनिक कार्य करने के लिए किया जाता है। कार्यालय शब्द का प्रयोग किसी संगठन के अंतर्गत किसी विशेष ओहदे जिसके साथ कई विशिष्ट कर्तव्य समाहित हों, को भी निरूपित करता है ...

                                               

वैयक्‍तिक सहायक

वैयक्तिक सहायक, बोलचाल शब्द में निजी सचिव होती है। निजी सचिव एक कार्यपालक सहायक होता है जिसे कार्यालयी कौशलों में प्रवीणता प्राप्त होती है, उसमें बिना प्रत्यक्ष पर्यवेक्षण के उत्तरदयित्वों को वहन करने की क्षमता होती है तथा उसे सौंपे गए दयित्वों क ...

                                               

भारतीय मजदूर संघ

भारतीय मजदूर संघ भारत का सबसे बड़ा केंद्रीय श्रमिक संगठन है। इसकी स्थापना भोपाल में महान विचारक स्व. दत्तोपन्त ठेंगड़ी द्वारा प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानी लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के जन्मदिवस २३ जुलाई १९५५ को हुई। भारत के अन्य श्रम संगठनों की तरह य ...

                                               

श्री महिला गृह उद्योग लिज्जत पापड़

श्री महिला गृह उद्योग लिज्जत पापड़ भारत में महिलाओं का सहकारी संगठन है। इसे संक्षेप में लिज्जत के नाम से जाना जाता है। यह पापड़ एवं अन्य अनेक उपभोक्ता उत्पाद निर्माण करती है।

                                               

नॉर्मन

नॉर्मन मध्यकाल के आरम्भ में उत्तरी फ़्रांस में लोगों की एक जाती थी जो उत्तरी यूरोप से आये वाइकिंग हमलावरों और स्थानीय जातियों का मिश्रण थे। यहाँ नॉर्मन जाती 10वी सदी की शुरुआत में उभरी और आने वाली सदियों में इसमें बदलाव आते रहे। इंग्लैण्ड, यूरोप ...

                                               

फ़्रैंक लोग

फ़्रैंक लोग पश्चिमी यूरोप में बसने वाली और एक पश्चिमी जर्मैनी भाषा बोलने वाली जाति थी। तीसरी सदी ईसवी में इनके क़बीले राइन नदी के उत्तरपूर्वी भाग में रहते थे। उस समय इस पूरे क्षेत्पर रोमन साम्राज्य का क़ब्ज़ा था और इनकी आपस में झड़पें होती रहती थ ...

                                               

वैन्डल

वैन्डल एक उत्तर यूरोप में बसने वाली जर्मैनी भाषा बोलने वाली जाति थी। पाँचवी शताब्दी ईसवी में वे रोमन साम्राज्य के क्षेत्रों में दाख़िल हुए और सन् 455 ई॰ में उन्होने राजधानी रोम पर क़ब्ज़ा कर के उसे तहस-नहस कर दिया। क्योंकि रोम पश्चिमी संस्कृति का ...

                                               

त्वा लोग

त्वा लोग अफ़्रीका की कई जातियों व जनजातियों का नाम है जो शिकारी-फ़रमर जीवन बसर करते हैं। यह अक्सर बांटू लोगों के समीप रहते हैं, हालांकि त्वा अपनी जीवनी जंगलों से चलाते हैं जबकि बांटू लोग कृषक होते हैं। सामाजिक रूप से त्वा को बांटूओं की तुलना में ...

                                               

अइमाक़ लोग

अइमाक़​ हेरात नगर से उत्तर में पश्चिम-मध्य अफ़्ग़ानिस्तान में और ईरान के ख़ोरासान प्रांत​ में विस्तृत कुछ ईरानी भाषाएँ बोलने वाले ख़ानाबदोश क़बीलों का सामूहिक नाम है। यह फ़ारसी की कई अइमाक़​ उपभाषाएँ बोलते हैं, हालांकि इनके तइमानी और मालेकी उपसमु ...

                                               

उज़बेक लोग

उज़बेक मध्य एशिया में बसने वाली एक तुर्की-भाषी जाति का नाम है। उज़बेकिस्तान की अधिकाँश आबादी इसी नसल की है, हालाँकि उज़बेक समुदाय बहुत से अन्य देशों में भी मिलते हैं, जैसे कि अफ़्ग़ानिस्तान, ताजिकिस्तान, किर्गिज़स्तान, तुर्कमेनिस्तान, काज़ाख़स्ता ...

                                               

गुर्जर

प्राचीन महाकवि राजशेखर ने गुर्जरों को रघुकुल-तिलक तथा रघुग्रामिणी कहा है। राजस्थान में गुर्जरों को सम्मान से मिहिर बोलते हैं, जिसका अर्थ सूर्य होता है। गुर्जरों का मूल स्थान गुजरात और राजस्थान माना गया है। इतिहासकार बताते हैं कि मुगल काल से पहले ...

                                               

तुर्कमेन लोग

तुर्कमेन मध्य एशिया में बसने वाली एक तुर्की-भाषी जाति का नाम है। तुर्कमेन लोग मुख्य रूप से तुर्कमेनिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान, पूर्वोत्तरी ईरान, सीरिया, इराक़ और उत्तरी कॉकस क्षेत्र में रूस के स्ताव्रोपोल क्राय में रहते हैं। यह तुर्कमेन भाषा बोलते हैं ...

                                               

दार्द लोग

दार्द या दारद उन समुदायों को कहा जाता है जो दार्दी भाषाएँ बोलते हैं। यह हिन्द-आर्य लोगों की एक उपशाखा है। दार्द लोग मुख्य रूप से उत्तर भारत के कश्मीर व लद्दाख़ क्षेत्र, पाक-अधिकृत कश्मीर के गिलगित-बल्तिस्तान क्षेत्र, पाकिस्तान के ख़ैबर-पख़्तूनख़् ...

                                               

नायमन लोग

नायमन या नायमन तुर्क या नायमन मंगोल मध्य एशिया के स्तेपी इलाक़े में बसने वाली एक जाति का मंगोल भाषा में नाम था, जिनके कारा-ख़ितान के साथ सम्बन्ध थे और जो सन् ११७७ तक उनके अधीन रहे। मंगोल नाम होने के बावजूद, नायमानों को एक मंगोल जाति नहीं बल्कि एक ...

                                               

नूरिस्तानी लोग

नूरिस्तानी समुदाय पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के नूरिस्तान इलाक़े में रहने वाली एक जाती है। नूरिस्तान के लोग अपने सुनहरे बालों, हरी-नीली आँखों और गोरे रंग के लिए जाने जाते हैं। उन्नीसवी सदी के अंत तक नूरिस्तानियों का धर्म हिन्दू धर्म से मिलता जुलता एक अ ...

                                               

पठान

पश्तून, पख़्तून या पठान दक्षिण एशिया में बसने वाली एक लोक-जाति है। वे मुख्य रूप में अफ़्ग़ानिस्तान में हिन्दु कुश पर्वतों और पाकिस्तान में सिन्धु नदी के दरमियानी क्षेत्र में रहते हैं हालांकि पश्तून समुदाय अफ़्ग़ानिस्तान, पाकिस्तान और भारत के अन्य ...

                                               

लाल कुर्ती आन्दोलन

लाल कुर्ती आन्दोलन भारत में पश्चिमोत्तर सीमान्त प्रान्त में ख़ान अब्दुल ग़फ़्फ़ार ख़ान द्वारा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के समर्थन में खुदाई ख़िदमतगार के नाम से चलाया गया एक ऐतिहासिक आन्दोलन था। खुदाई खिदमतगार एक फारसी शब्द है जिसका हिन्दी में अर् ...

                                               

गोरोंतालोई लोग

गोरोंतालोई या हुलनदालो दक्षिणपूर्व एशिया के इण्डोनेशिया देश के सुलावेसी द्वीप के उत्तरी भाग में बसने वाला एक समुदाय है। यह वहाँ पर स्थित गोरोंतालो प्रान्त में केन्द्रित हैं और अपनी गोरोंतालोई भाषा बोलते हैं। गोरोंतालोई लोग अधिकतर मुस्लिम हैं लेकि ...

                                               

डायक लोग

डायक या ड्याक और डायह दक्षिणपूर्वी एशिया के बोर्नियो द्वीप के मूल निवासियों का एक जातीय समूह है। २०० से अधिक भिन्न उपभाषाओं, परम्पराओं, नियमों, क्षेत्रों व संस्कृतियों वाले उपसमुदाय इसमें शामिल हैं जो एक-दूसरे से आसानी से अलग बताये जा सकते हैं ले ...

                                               

बतक लोग

अगर आप फ़िलिपीन्ज़ के पलावन द्वीप के इसी नाम के समुदाय पर जानकारी ढूंढ रहे हैं, तो बतक लोग फ़िलिपीन्ज़ वाला लेख देखें बताक लोग इंडोनेशिया के उत्तर सुमात्रा प्रांत में रहने वाले कई जातियों को सामुहिक रूप से कहा जाता है। इसका निवास कोई २५०० सालों स ...

                                               

मादूराई लोग

मादूराई दक्षिणपूर्वी एशिया के इण्डोनेशिया देश के मादूरा द्वीप के मूल निवासियों का एक जातीय समूह है। यह समुदाय अब इण्डोनेशिया के कई प्रान्तों पर फैला हुआ है। जनसंख्या के हिसाब से यह इण्डोनेशिया का तीसरा सबसे बड़ा जातीय समुदाय है। मादूरा द्वीप पर क ...

                                               

मिनंगकाबाऊ लोग

मिनंगकाबाऊ या केवल मिनंग दक्षिणपूर्व एशिया के इण्डोनेशिया देश के सुमात्रा द्वीप के पश्चिमी भाग में स्थित मिनंगकाबाऊ उच्चभूमि के मूल निवासी हैं।

                                               

सुन्दा लोग

सुन्दा इण्डोनेशिया के जावा द्वीप के पश्चिमी भाग में बसने वाला एक समुदाय है। यह संख्या में ४ करोड़ के पास हैं और इण्डोनेशिया के सबसे बड़े समुदायों में से एक हैं। इनकी अपनी अलग सुन्दा भाषा है। यह अधिकतर इस्लाम के अनुयायी हैं हालांकि इनमें अपने पूर् ...

                                               

अनुआक लोग

अनुआक, जो अनयुआक, अगनवाक और अन्यवा भी कहलाते हैं, पूर्वी अफ़्रीका में बसने वाली एक जाति है। इस समुदाय के लोग दक्षिणपूर्वी दक्षिण सूडान और दक्षिणपश्चिमी इथियोपिया में रहते हैं। विश्वभर में अनुआकों की जनसंख्या ३ से ३.५ लाख के बीच अनुमानित की गई है।

                                               

अफ़ार लोग

अफ़ार, जिन्हें क़फ़ाऔर दनाकिल भी कहते है, अफ़्रीका के सींग के क्षेत्र में रहने वाला एक समुदाय है। वे मुख्य रूप से इथियोपिया के अफ़ार प्रदेश में और उत्तरी जिबूती में रहते हैं, हालांकि इसके कुछ सदस्य इरित्रिया के दक्षिणी भाग में और सोमालिया भी बसे ...

                                               

तिग्राय-तिग्रीन्या लोग

तिग्राय-तिग्रीन्या पूर्वी अफ़्रीका में इरित्रिया और इथियोपिया के तिग्राय प्रदेश में बसने वाले एक समुदाय का नाम है। इसके सदस्य तिग्रीन्या भाषा बोलते हैं और तिग्राय प्रदेश की आबादी के ९६% से अधिक हैं। इनकी कुल जनसंख्या ९० लाख से ज़रा अधिक है, जिसमे ...

                                               

तिग्रे लोग

तिग्रे पूर्वी अफ़्रीका में इरित्रिया और सूडान के कुछ क्षेत्रों में बसने वाले एक समुदाय का नाम है। इसके सदस्य तिग्रे भाषा बोलते हैं। व्यावसायिक रूप से वे अधिकतर ख़ानाबदोश पशु-पालन में जुटे हुए हैं। तिग्रे लोग इरित्रिया और इथियोपिया के तिग्राय-तिग् ...

                                               

कज़ाख़ लोग

कज़ाख़ मध्य एशिया के उत्तरी भाग में बसने वाली एक तुर्की-भाषी जाति का नाम है। कज़ाख़स्तान की अधिकाँश आबादी इसी नस्ल की है, हालाँकि कज़ाख़ समुदाय बहुत से अन्य देशों में भी मिलते हैं, जैसे कि उज़बेकिस्तान, मंगोलिया, रूस और चीन के शिनजियांग प्रान्त म ...

                                               

क़ाराक़ालपाक़ लोग

क़ाराक़ालपाक़ उज़बेकिस्तान में बसने वाली एक तुर्की जाति है। यह समुदाय अमु दरिया के अंतिम भाग में और अरल सागर के दक्षिणी किनारे पर रहता है। विश्व भर में इनकी जनसँख्या लगभग ६.५ लाख अनुमानित की जाती है, जिनमें से ५ लाख उज़बेकिस्तान के क़ाराक़ालपाक़स ...

                                               

ख्मेर लोग

ख्मेर दक्षिणपूर्वी एशिया का एक समुदाय है जो मुख्य रूप से कम्बोडिया देश का मूल निवासी है। उस देश के १.५ करोड़ लोगों में से लगभग ९०% ख्मेर समुदाय के ही सदस्य हैं। वे अधिकतर ख्मेर भाषा बोलते हैं जो ऑस्ट्रो-एशियाई भाषा-परिवार की सदस्य है और जिसकी बहन ...