Blog पृष्ठ 323




                                               

गन्ने का रस

गन्ने को पेरने गन्ने का रस निकलता है। दक्षिण एशिया, दक्षिण-प्प्र्व एशिया, मिस्र, लैटिन अमेरिका और ब्राजील आदि में यह पेय के रूप में प्रयुक्त होता है। गन्ने के रस से गुड़ और चीनी भी बनती है। गन्ने का रस निकालने के लिये गन्ने को छिलका निकालकर या बि ...

                                               

रूह अफ़ज़ा

रूह अफ़ज़ा: एक गैर-अल्कोहल केंद्रित स्क्वैश है। यह 1906 में गाजियाबाद, ब्रिटिश भारत में हकीम हाफिज अब्दुल मजीद द्वारा तैयार किया गया था और उनके द्वारा और उसके बेटों, हमदर्द प्रयोगशालाओं, पाकिस्तान और हमदर्द प्रयोगशालाओं, भारत द्वारा स्थापित कंपनि ...

                                               

सन्देश (मिठाई)

संदेश एक प्रकार का भारतीय पकवान है, जो छेना तथा चीनी से बनाया जाता है। सन्देश एक बंगाली मिठाई है, जो भारतीय उपमहाद्वीप के पूर्वी भाग में बंगाल क्षेत्र में बनती है, जो दूध से निकले छेना और चीनी मिलाकर बनाई जाती है। सन्देश के कुछ व्यंजनों में छेना ...

                                               

तरला दलाल

तरला दलाल भारत की एक प्रख्यात भोजन लेखिका व रसोइया थीं। इन्होंने खाना पकाने के कई कार्यक्रमों जैसे तरला दलाल शो व कुक इट अप विद् तरला दलाल की मेज़बान की थी। हालांकि यह कई प्रकार के व्यंजनों और स्वस्थ खाना पकाने की विधियों के बारे में लिखती थीं, प ...

                                               

मास्टरशेफ इंडिया कुकिंग शो ३

आम जनता को अपने साथ जोड़कर उनकी रसोई में स्वादिश्ट भोजन बनाने की क्षमता को परखने वाला मास्टर शेफ इंडिया इस बार भी एक नए जोश के साथ स्टार प्लस पर वापिस चुका है। मास्टर शेफ इंडिया सीजन 3 के लिये भारत के कई बड़े शहरों में बड़े स्तर पर ऑडीशंस चलाए गए ...

                                               

आलू मटर

आलू मटर भारतीय उपमहाद्वीप का एक पंजाबी व्यंजन है, जो मसालेदार मलाईदार टमाटर आधारित सॉस में आलू और मटर से बनाया जाता है। यह एक शाकाहारी व्यंजन है। सॉस को आमतौपर लहसुन, अदरक, प्याज, टमाटर, सीताफल, जीरा और अन्य मसालों के साथ पकाया जाता है। टेस्टी बा ...

                                               

इमली की चटनी

इमली की चटनी एक व्यंजन है, जो स्वाद में खट्टी मीठी होती है एवं जिसका संपूर्ण भारतीय उपमहाद्वीप में भोजन के साथ, उसका स्वाद बढ़ाने के लिए उपभोग किया जाता है। यह चटनी चाट को मीठा स्वाद देने में अधिकतर काम में ली जाने वाली है। आमतौपर यह रोटी, गोल गप ...

                                               

ख़ुबानी का मीठा

ख़ुबानी का मीठा हैदराबादी बिरयानी के बाद परोसने के लिए एक उपयुक्त मिठाई है। ख़ुबानी और कस्टर्ड से बनती यह एक विशिष्ठ मिठाई है। इसमें हल्के से खट्टास की महक वाली मीठी ख़ुबानी की प्युरी में इलायची और केसर जैसे भारतीय मसालों का समावेश है और इसे मलाइ ...

                                               

खीरा रायता

खीरे का रायता भारत में बनाए जाने वाली रायता रेसिपीज़ में एक विशेष स्थान रखता है। यह रायता दही को फेंट कर बनाया जाता है। दही को फेंटने के बाद उसमें खीरा, हरी मिर्च, प्याज और टमाटर छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर मिलाया जाता है। यह गर्मियों के महीनों ...

                                               

चंपारण मीट

चंपारण मीट जिसे आहुना, हांडी मीट या बटलोई के नाम से भी जाना जाता है। इस व्यंजन की शुरुआत बिहार के एक जिले चंपारण से हुई। इसको बनाने के लिए सबसे पहले मटन को घी सरसों का तेल प्याज, लहसुन, अदरक और मसालों के मिश्रण के पेस्ट के साथ मिलाया जाता है। इसक ...

                                               

चोखा

चोखा एक प्रकार का व्यंजन है जो प्रायः आलू या बैंगन का बनाया जाता है। यह बिहार में लिट्टी के साथ, उत्तर प्रदेश में परांठे के साथ और रजस्थान में दाल-बाट्टी के साथ सेवन किया जाता है। प्राय इसको आलू या बैंगन से बानाया जाता है।

                                               

छोले भटूरे

सूजी 100ग्राम, चीनी आधा छोटी चम्मच, मैदा 500 ग्राम, भटूरा बनाने की विधि नमक स्वादानुसार, दही आधा कटोरी, तेल - तलने के लिये बेकिंग पाउडर - 1 छोटी चम्मच, मैदा और सूजी को किसी बर्तन में छान कर निकाल लीजिये, मैदा के बीच में जगह बनाइये, 2 टेबिल स्पून ...

                                               

डबल का मीठा

डबल का मीठा एक लोकप्रिय हैदराबादी व्यंजन है जो मुगलई खाने से है। इसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है और इसे बनाने के लिए थोड़ी ही सामग्री चाहिए जैसे कि ब्रेड, दूध, क्रीम और चीनी। इसमें केसर और इलायची का उपयोग भी अच्छा स्वाद और सुगंध के लिए हुआ है। इस ...

                                               

दक्षिण भारतीय व्यंजन

साँचा:Cuisine of India दक्षिण भारतीय व्यंजन शब्द का प्रयोग भारत के चार दक्षिणी राज्यों आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में पाए जाने वाले व्यंजन के लिए होता है।

                                               

दम पुख्त

दम पुख्त एक लखनवी व्यंजन पकाने की विधि है। मूलतः इसके द्वारा मांसाहारी व्यंजन पकाये जाते हैं। दमपुख़्त का कायदा है कि गोश्त को मसालों के साथ 4-5 घंटे तक हल्की आँच पर दम दिया जाता है में पकने दिया जाता है)। अगर लकड़ी के कोयले पर इसे पकाया जाए तो इ ...

                                               

दाबेली

दाबेली, कच्छी दाबेली या ड़बल रोटी पश्विम भारत का एक लोकप्रिय व्यंजन है। यह व्यंजन दिखने में बर्गर जैसा लगता है लेकिन इसका स्वाद खट्टा, मीठा, तीखा और नमकीन हैं। इसका उद्गम गुजरात के कच्छ जिले में हुआ था। ==इतिहास==in

                                               

दाल मखानी

दाल मखनी या दाल मखानी एक लोकप्रिय व्यंजन हैं जिसका उद्भव भारतीय उपमहाद्वीप के पंजाब क्षेत्र से हुआ है। दाल मखनी में प्रमुखता से उपयोग की जाने वाली सामग्रियाँ हैं काली उड़द दाल, लाल राजमा, मक्खन और क्रीम।

                                               

पापड़

पापड़ भारताय खाने के साथ-साथ प्रयुक्त होने वाला एक कुड़कुड़ा खाना है। पापङ ये एक प्रकार का मुँह का टिश्यू पेपर है ये एक अच्छा पाचक है और ज्यादातर ये खाने के अन्त में खाया जाता है।

                                               

पूड़ी

पूरी या वास्तविक नाम पूड़ी एक एशियाई अखमीरी रोटी है जिसे भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश समेत दक्षिण एशिया के कई देशों में नाश्ते या हल्के भोजन के रूप में खाया जाता है। पुड़ी को सबसे अधिक नाश्ते में परोसा जाता है, इसके अतिरिक्त यह विशेष या औपचारिक ...

                                               

पेठा (मिठाई)

पेठा उत्तर भारत की एक पारदर्शी नरम मिठाई है। आमतौपर आयताकार या बेलनाकार आकृति का यह व्यंजन, एक विशेष सब्जी, सफ़ेद लौकी से बनाया जाता है। आगरा नगर से संबंधित होने के कारण इसे अक्सर आगरा का पेठा भी कहा जाता है। बढ़ती मांग और नवाचार के साथ, मूल रूप ...

                                               

बिरयानी

बिरयानी भारतीय उपमहाद्वीप का चावल के साथ सब्जियों और माँस के मिश्रण से बना एक प्रसिद्ध एवं लोकप्रिय व्यंजन है. यह महाद्वीप मे तो लोकप्रिय है हीं, दुनिया भर मे बसे अनिवासी भारतीयों के बीच भी इसकी माँग कम नही है. आम तौपर इसके प्रमुख अवयव चावल, मसाल ...

                                               

बुरानी

यह रायता दही आधारित एक भारतीय व्यंजन है। समान्यत: रायता बनाने के लिए दही को मथ कर इसमे प्याज, ककडी़, खीरा, टमाटर, या बेसन की बूंदी या अनन्नास आदि भोज्य सामग्री मिलाई जाती हैं। परन्तु बुरानी रायता में गाढी दही, लहसुन, नमक, लाल मिर्च का पाउडर एवं द ...

                                               

बूंदी (मिठाई)

बूंदी या बुंदिया मिठाई, तला हुई बेसन आटा से बना एक भारतीय मिठाई है। बहुत मीठा होने के कारण, इसे केवल एक हफ्ते तक ही संग्रहीत किया जा सकता है। राजस्थान के शुष्क क्षेत्रों में भोजन को संरक्षित करने की आवश्यकता के कारण, बूंदी लड्डू को प्राथमिकता दी ...

                                               

भाजी

भाजी भारतीय उपमहाद्वीप के कई क्षेत्रों में खाया जाने वाला एक मसालेदार व्यंजन है और इसकी कई प्रकार हैं जो की क्षेत्रों के मुताबिक खाया जाता है। इसे खाने के पहिले खाया जाता है तथा यह पकोड़े की भांति होता है और इसकी उत्पत्ति भारतीय उपमहाद्वीप से हुई ...

                                               

माल की खिचड़ी

माल की खिचड़ी राजस्थान में कही - कही स्थानों पर माल से खिचड़ी बनाइ जाती हैं। चावल के स्थान पर माल का प्रयोग किया जाता हैं। माल से घाट, हलवा भी तैयार किया जाता हैं। माल की खिचड़ी बहुत ही स्वादिष्ट बनती हैं। माल की खिचड़ी में बहुत ज्यादा सामग्री की ...

                                               

मुरब्बा

मुरब्बा परम्परागत रूप से मीठा होता है। यह भारत और पाकिस्तान में काफी प्रचलित है। यह युनानी दवाई प्रकार का सबसे प्रचलीत एवम असरदार संशोधन है. युनानी वैद्यकीय प्रणाली मे मुरब्बा, चटनी और माजुन के रुप मे दवा का स्वरुप है. ईसमे मिठास केलीए गुड और चिन ...

                                               

लिट्टी चोखा

लिट्टी चोखा एक प्रकार का व्यंजन है जो से लिट्टी तथा चोखे - दो अलग व्यंजनों के साथ-साथ खाने को कहते हैं। यह उत्तरप्रदेश, बलिया के विशेष व्यंजनो में से एक है।

                                               

शर्बत

शर्बत एक पेय है जो पानी और नींबू या फलों के रसों में मसालों तथा अन्य सामग्रियों को मिला कर बनाया जाता है। प्रायः यह शीतलता प्रदान करने के लिए पिया जाता है। भारत तथा पाकिस्तान में शर्बत में मुख्तः पानी, चीनी और नमक के अलावे कुछ मसाले और नींबू के र ...

                                               

सत्तू

सत्तू एक प्रकार का देशज व्यंजन है, जो भूने हुए जौ और चने को पीस कर बनाया जाता है। बिहार में यह काफी लोकप्रिय है और कई रूपों में प्रयुक्त होता है। सामान्यतः यह चूर्ण के रूप में रहता है जिसे पानी में घोल कर या अन्य रूपों में खाया अथवा पिया जाता है। ...

                                               

साबूदाना मिक्चर

साबूदाना मिक्चर सामग्री: 100 ग्राम नायलोन साबूदाना, 50 ग्राम आलू का सूखा हुआ किस, 150 ग्राम कुटे या पिसे हुए मूँगफली के दाने, नमक स्वादानुसार, लाल मिर्च पावडर एक बड़ा चम्मच व 2 बड़े चम्मच शकर पीसी हुई, तलने के लिए तेल। विधि: सर्वप्रथम साबूदाने को ...

                                               

साबूदाने का खीर

साबूदाने का खीर विधि: 1. साबूदाने को पानी से धो लें और पानी निकालकर 10-15 मिनट के लिए रख दें। 2.अब धीमी आंच पर दूध के साथ साबूदाने को पकाएं। इसको तब तक चलाएं जब तक कि दूध गाढ़ा और कम न हो जाए और साबूदाना पारदर्शी न दिखने लगे। 3.चीनी और इलायची पाउ ...

                                               

साबूदाने की खिचड़ी

साबूदाने की खिचड़ी मुख्यत: व्रत उपवास में बनाकर खाई जाती है यदि आप भी इसको उपवास के लिये बना रहे हैं तो इसमें सामान्य नमक की जगह सैंधा नमक का प्रयोग करें. साबूदाना दो तरह के होते हैं एक बड़े और एक सामान्य आकार के. यदि आप बड़े साबूदाना प्रयोग कर र ...

                                               

सूजी

दुरुम गेहूं के दानेदार, शुद्धिकृत गेहूं के टुकड़े को सूजी कहते हैं जिसका उपयोग पास्ता बनाने के लिये और नाश्ते के अनाज और हलवे के लिये भी किया जाता है।

                                               

सेवई

सेवई या संथकई दक्षिण भारत में बहुत प्रसिद्ध हैं, खासकर तमिलनाडु और कर्नाटक में, ये एक प्रकार के चावल से बने नूडल होते हैं। अन्य अनाजों की बनी हुई संथकई का प्रचालन भी धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है, जैसे गेंहू, रागी आदि। सेवई/संथकई अपनी ही शैली के एक अ ...

                                               

हलवा

हलवा कई प्रकार की घनी, मीठी मिठाई को संदर्भित करता है, जिसे पूरे मध्य पूर्व, दक्षिण एशिया, मध्य एशिया, पश्चिम एशिया, उत्तरी अफ्रीका, अफ्रीका का सींग, बाल्कन, पूर्वी यूरोप, माल्टा और यहूदी जगत में खाने के लिए पेश किया जाता है। शब्द हलवा अरबी हलवा ...

                                               

प्याज कचोरी

प्याज कचौरी एक तरह का राजस्थानी कचोरी है, जो मसालेदार प्याज के साथ बनाई जाती है। यह जोधपुऔर आसपास के प्रसिद्ध मसालेदार स्नैक भोजन में से एक है। उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में इस प्याज की कचोरी को बहुत पसंद किया जाता है।

                                               

बीकानेरी भुजिया

बीकानेरी भुजिया यह राजस्थान के बीकानेर के नाम से जुड़ी हुई है। यह एक बेसन के बारीक सेव या जवे जैसे बनाकर खाद्य तेल में तले जाने पर बनती है। इसमें बेसन के अलावा मूंग, मोठ मटर आदि के आटे भी मिलाए जाते हैं। साथ ही कई मसाले भी डाले जाते हैं। यह सिर्फ ...

                                               

मिर्ची बड़ा

मिर्ची बड़ा एक मसालेदार भारतीय स्नैक है जिसमें हरी मिर्ची और आलू के विभिन्न मसालों की स्टफिंग की जाती है। दुनियाभर में जोधपुर, राजस्थान का मिर्ची बड़ा प्रसिद्ध है, क्योंकि उस क्षेत्र का पानी इसे एक अनोखा स्वाद देता है।

                                               

मेघालय का खानपान

साँचा:भारतीय खानपान मेघालय पूर्वोत्तर भारतीय राज्य है जहां बहुत से स्थानीय व्यंजन हैं। मेघालय तीन मंगोलियाई जनजातियों का घर है; एवं यहाँ एक अनूठा खानपान है, जो पूर्वोत्तर भारत के अन्य सेवन सिस्टर स्टेट्स से भिन्न है। लोगों का मुख्य भोजन मसालेदार ...

                                               

हैदराबादी हलीम

हैदराबादी हलीम एक प्रकार का हलीम है जो भारतीय शहर हैदराबाद में बहुत लोकप्रिय है। हलीम एक तरह की खिचड़ी है जो मांस, दाल और दलिये से बनाया जाता है। यह मूल रूप से एक अरबी व्यंजन है और इसे हैदराबाद राज्य में निज़ामों के शासन काल के दौरान लाया गया था। ...

                                               

निहारी

निहारी पाकिस्तान, भारत और बांग्लादेशी पकवान है। इसे समान्यतः कम पकाये हुए गौमांस, अथवा मेमने अथवा बकरी के मास के सहित इनके मस्तिष्क या अस्थि मज्जा साथ परोसा जाता है। == यह पकवान मुख्यतः सुबह के समय खाया जाता है। सुबह के नाश्ते पे खाने जानेवाला व् ...

                                               

पर्णाहारी

प्राणी विज्ञान में पर्णाहारी ऐसे शाकाहारी प्राणी होते हैं जो अधिकतर पत्ते खाते हैं। शिशु पत्तों को छोड़कर, पूरी तरह से विकसित पत्तों में सेलुलोस की भरमार होती है जिसे पचाना कठिन होता है। इसके अलावा कई पत्तों में विषैले पदार्थ भी पाए जाते हैं। इस ...

                                               

विश्व शाकाहार दिवस

विश्व शाकाहार दिवस, प्रतिवर्ष 1 अक्टूबर को पूरे विश्व में मनाया जाता है। यह 1977 में उत्तरी अमेरिकी शाकाहारी समाज का स्थापना दिवस है और 1978 में अंतर्राष्ट्रीय शाकाहारी संघ द्वारा "शाकाहार से खुशी, करुणा और जीवन-वृद्धि की संभावनाओं को बढ़ावा देने ...

                                               

मत्स्याखेट

मत्स्याखेट मछलियों को पकड़ने या उनका शिकार करने की क्रिया होती है। मछलियाँ महासागरों, सागरों, नदियों, झीलों व अन्य जलाशयों में पकड़ी जाती हैं। इन्हें हाथों, जालों, कांटो से और, बड़ी मछलियों के लिए, भाले जैसे हथियारों के प्रयोग से पकड़ा या मारा जा ...

                                               

चम

चम मत्स्याखेट में मछलियों व अन्य जलीय प्राणियों को आकर्षित करने के लिए जल में फेंकने वाले खाने के अंशों को कहते हैं। यह मूल रूप से पोवोहटान नामक अमेरिकी आदिवासी भाषा का शब्द है जो विश्वभर की भाषाओं में फैल गया है। जब मछली चम की गन्ध से आकर्षित हो ...

                                               

जीभ

जीभ मुख के तल पर एक पेशी होती है, जो भोजन को चबाना और निगलना आसान बनाती है। यह स्वाद अनुभव करने का प्रमुख अंग होता है, क्योंकि जीभ स्वाद अनुभव करने का प्राथमिक अंग है, जीभ की ऊपरी सतह पेपिला और स्वाद कलिकाओं से ढंकी होती है। जीभ का दूसरा कार्य है ...

                                               

आयोडिन

Other name- avakaarak lavad आयोडीन avakaarak salt एक रासायनिक तत्त्व है। आयोडीन हमारे आहार के प्रमुख पोषक तत्वों में से है और इसकी कमी से दिमाग़ और शरीर के विकास से जुड़ी कई बीमारियाँ होती हैं। दुनिया में प्रति वर्ष लाखों बच्चे सीखने की कमज़ोर क् ...

                                               

क्रोमियम

क्रोमियम एक रासायनिक तत्व है जो रासायनिक नज़रिये से संक्रमण धातु समूह का सदस्य है। यह एक चमकीला, सलेटी-भूरे रंग का, सख़्त लेकिन आसानी से टूट जाने वाला धातु है। इसे पालिश करने पर यह अत्याधिक चमकीला बन जाता है और यह आसानी से नहीं धुंधलाता। इसका पिघ ...

                                               

गंधक

बहुत प्राचीन काल से यह ज्ञात है। तब औषधों और युद्धों में यह प्रयुक्त होता था। मध्ययुग के कोमियागरों को भी गंधक मालूम था और अनेक रासायनिक प्रक्रियाओं में प्रयुक्त होता था। वे गंधक को जलनीय वायु का सार समझते थे। फ्लाजिस्टन सिद्धांत से इसका घनिष्ठ स ...

                                               

गन्धक

गन्धक या सल्फ़र अंग्रेजी - Sulphur, Sulfur एक रासायनिक तत्व है जिसकी परमाणु संख्या १६ होती है। इसका संकेत S होता है तथा परमाणुभार 32.1। यह आवर्त सारणी में ऑक्सीजन के ग्रूप समूह में आता है। यह जैव पदार्थों में विभिन्न रूपों में विद्यमान रहता है।