Blog पृष्ठ 372




                                               

सामान्य आपेक्षिकता

सामान्य आपेक्षिकता सिद्धांत या सामान्य सापेक्षता सिद्धांत, जिसे अंग्रेजी में जॅनॅरल थिओरी ऑफ़ रॅलॅटिविटि कहते हैं, एक वैज्ञानिक सिद्धांत है जो कहता है कि ब्रह्माण्ड में किसी भी वस्तु की तरफ़ जो गुरुत्वाकर्षण का खिंचाव देखा जाता है उसका असली कारण ...

                                               

आइनस्टाइन क्षेत्र समीकरण

आइनस्टाइन​ क्षेत्र समीकरण भौतिकी में ऐल्बर्ट आइनस्टाइन​ के सामान्य सापेक्षता सिद्धांत में दस समीकरणों का एक समूह है जो पदार्थ और ऊर्जा द्वारा दिक्-काल में पैदा की गई मरोड़ से होने वाले गुरुत्वाकर्षण के प्रभाव का वर्णन करता है। इसे आइनस्टाइन​ ने स ...

                                               

क्वांटम गुरुत्व

क्वांटम गुरुत्व सैद्धांतिक भौतिकी का एक क्षेत्र है जो क्वांटम यांत्रिकी के सिद्धांतों के अनुसार गुरुत्वाकर्षण का वर्णन करता है, और जहां क्वांटम प्रभावों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है, जैसे कि कॉम्पैक्ट खगोल भौतिक वस्तुओं के पास जहां गुरुत्वाकर ...

                                               

घटना क्षितिज

भौतिकी के सामान्य सापेक्षता सिद्धांत में, घटना क्षितिज दिक्-काल में एक ऐसी सीमा होती है जिसके पार होने वाली घटनाएँ उसकी सीमा के बाहर के ब्रह्माण्ड पर कोई असर नहीं कर सकती और न ही उसकी सीमा के बाहर बैठे किसी दर्शक या श्रोता को यह कभी भी ज्ञात हो स ...

                                               

व्हाइट होल

व्हाइट होल सामान्य आपेक्षिकता सिद्धांत के अंतर्गत, एक काल्पनिक क्षेत्र है जिसमें बाहर से प्रवेश संभव नहीं, हालाँकि इससे प्रकाश और पदार्थ का बहिर्गमन संभव है। एक प्रकार से यह, ब्लैक होल, जिसमें केवल बाहर से प्रवेश संभव है और पदार्थ या प्रकाश बाहर ...

                                               

शाब्दिक इकाई

शाब्दिक इकाई किसी भाषा का एक शब्द, शब्द का अंश या शब्दों की शृंख्ला होती है जो उस भाषा के शब्दसंग्रह का मूल तत्व होती है। उदाहरण के लिये "बिल्ली," "बस अड्डा," "जाने-अनजाने में," "चलते-चलते," "सूई की नोक पर" और "गाड़ी" सभी शाब्दिक इकाईयाँ हैं। शब् ...

                                               

अफवाह

सामाजिक विज्ञानों में ऐसे कथनों को अफवाह कहते हैं जिसकी सत्यपरकता की शीघ्र या कभी भी न जाँची जा सके। कुछ विद्वान अफवाह को अधिप्रचार का ही एक रूप मानते हैं।

                                               

अभिलेखन

अभिलेखन या रेकॉर्डिंग वह क्रिया है जिसमें आंकड़ा को ग्रहण करने के बाद उसे किसी माध्यम पर संग्रहीत किया जाता है ताकि बाद में उसका उपयोग किया जा सके।

                                               

क्वाण्टम सूचना

भौतिकी और संगणक विज्ञान में क्वान्टम सूचना उस सूचना को कहते हैं जो किसी क्वान्टम प्रणाली के प्रावस्था में संचित होती है। क्वाण्टम सूचना, क्वाण्तम सूचना सिद्धान्त के अध्ययन की मूलभूत ईकाई है और इसे क्वाण्टम सूचना संसाधन द्वारा संसाधित किया जाता है ...

                                               

गुप्त लेखन

गुप्त लेखन संवाद लिखने की ऐसी पद्धति जिसे व्यक्तिविशेष के सिवाय दूसरा न समझ सके। गुप्त लेखन दृश्य तथा अदृश्य दो प्रकार का होता है। गुप्त लेखन में संवाद बीजांक या कूट द्वारा प्रेषित किया जाता है। कूट पद्धति में प्रेषक तथा आदाता कूट पुस्तक का प्रयो ...

                                               

द्वयंक

{{Tmbox |type=notice |imageright= |textstyle="color: #346733; font-weight:bold; |text= This article was created as part of Project Tiger Editathon 2018. द्वयंक या बिट bit कम्प्यूटरी तथा अंकीय संचार में प्रयुक्त सूचना की आधारभूत इकाई है। द्वयंक के ...

                                               

ब्लॉक आरेख

खण्ड आरेख या ब्लाक आरेख का प्रयोग किसी तन्त्र की रचना अथवा किसी प्रक्रिया के उच्च-स्तरीय दृष्यात्मक प्रदर्शन के लिये किया जाता है। प्रौद्योगिकी के संसार में इनका हार्डवेयर डिजाइन, साफ्ट्वेयर डिजाइन, तथा प्रक्रियाओं के प्रवाह आरेख को प्रदर्शित करन ...

                                               

सारणी

सारणी आंकड़ों को पंक्ति तथा खाना में व्यवस्थित करने का एक साधन है। इसका उपयोग संचार, अनुसंधान तथा आंकड़ा-विश्लेषण में बहुतायत में होता है। सारणी प्रिंट मिडिया, हस्तलिखित नोट, कंप्युटर सॉफ्टवेयर, ट्रैफिक संकेतों, तथा अनेकानेक जगहों पर देखने को मिल ...

                                               

सूचना

सू चना पद का अर्थ किसी को कोई जरूरी बात बताना, कहना, समाचार सुनाना, किसी को या आपको बतागई बात आदि सब सूचना कहलाती है। सूचना अंग्रेजी में शब्द फॉर्मेटिया अथवा फोरम शब्द से बना है। ये दोनों ही शब्द वस्तु के आकार व् स्वरूप प्रदान करने के अभिप्राय को ...

                                               

सूचना अर्थशास्त्र

सूचना अर्थशास्त्र, व्यष्टि अर्थशास्त्र की एक शाखा है जिसमें इस बात का अध्ययन किया जाता है कि सूचना तथा सूचना तन्त्र किस प्रकार अर्थव्यवस्था को एवं आर्थिक निर्णयों को प्रभावित करते हैं।

                                               

सूचना का अधिकार अधिनियम, २००५

15 जून 2005 को इसे अधिनियमित किया गया और पूर्णतया 12 अक्टूबर 2005 को सम्पूर्ण धाराओं के साथ लागू कर दिया गया। सूचना का अधिकार अर्थात राईट टू इन्फाॅरमेशन। सूचना का अधिकार का तात्पर्य है, सूचना पाने का अधिकार, जो सूचना अधिकार कानून लागू करने वाला र ...

                                               

हिंदी एसएमएस

मोबाइल के चलन के साथ हिंदी एस एम एस का चलन भी बहुत बढ़ा है। हिंदी में मजेदार एस एम एस और एस एम एस में कई तरह के चुटकुले बहुत प्रचलन में हैं। युवाओं में यह बहुत पसंद किया जाता है। युवा अपने मोबाइल पर अधिकतर इस प्रकार के एस एम एस का संकलन रखते हैं। ...

                                               

मनोविश्लेषण

मनोविश्लेषण, आस्ट्रिया के मनोवैज्ञानिक सिग्मंड फ्रायड द्वारा विकसित कुछ मनोवैज्ञानिक विचारों का समुच्चय है जिसमें कुछ अन्य मनोवैज्ञानिकों ने भी आगे योगदान किया। मनोविश्लेषण मुख्यत: मानव के मानसिक क्रियाओं एवं व्यवहारों के अध्ययन से सम्बन्धित है क ...

                                               

एलेक्ट्रा मनोग्रंथि

एलेक्ट्रा मनोग्रंथि मनोविश्लेषणवादियों की एक धारणा है जो पिता और पुत्री के बीच यौनाकर्षण से संबंधित है। इस धारणा के अनुसार जैसे पुत्र स्वभावत: माँ की ओर आकर्षित होता है वैसे ही पुत्री का पिता की ओर संवेगात्मक तथा कामुक प्रकार का आकर्षण रहता है। फ ...

                                               

अकारादिक्रम

अकारादिक्रम वह प्रणाली है जिसमें जैसे शब्दों, वाक्यांशों, अनुच्छेदों आदि को क्रमित करने के लिए वर्णमाला में आने वाले वर्णों के क्रम का उपयोग किया जाता है। यह समानुक्रमण की कई विधियों में से एक है।

                                               

अम्बिग्राम

अम्बिग्राम ऐसे शब्द, कला के रूप या अन्य प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व को कहते हैं, जिसके तत्वों का अर्थ बरकरार रहता हैं जब उसको देखा या उसकी व्याख्या एक अलग दिशा, परिप्रेक्ष्य, या अभिविन्यास से की जाए। अम्बिग्राम का अर्थ वही रह सकता हैं या बदल सकता जब ...

                                               

आराध्य

आराध्य एक पद या विशेषण है जो प्रायः उस देवता या व्यक्ति के लिए प्रयुक्त होता है जिसे कोई व्पूयक्जाति या आराधना करने योग्य मानता हो। यह व्यक्ति एवं समाज सापेक्ष होता है। आराध्य की आराधना करने वाला व्यक्ति आराधक कहलाता है। आराध्य को आराधक के लिए कल ...

                                               

कैलाश

ईस्ट ऑफ कैलाश, नई दिल्ली कैलाश पर्वत ग्रेटर कैलाश – २ ग्रेटर कैलाश – १ ग्रेटर कैलाश, नई दिल्ली कैलाश कालोनी, नई दिल्ली कैलाश भारत में हिन्दू पुरुष नाम भी रखा जाता है।

                                               

ख़ुर्द और कलाँ

ख़ुर्द और कलाँ फ़ारसी भाषा के शब्द हैं जो हिन्दी में और भारतीय उपमहाद्वीप में कई सन्दर्भों में पाए जाते हैं, विशेषकर जगहों के नामों में। "ख़ुर्द" का मतलब "छोटा" होता है और "कलाँ" का मतलब बड़ा होता है। इन नामों को मुग़लिया ज़माने से प्रयोग किया जा ...

                                               

परिमाण की कोटि

किसी राशि के परिमाण को निकटतम दस के घात के रूप में अभिव्यक्ति को उस राशि के परिमाण की कोटि कहते हैं। इस प्रकार कहते हैं कि धरती के द्रव्यमान के परिमाण की कोटि १०२२ टन है जबकि सूर्य के द्रव्यमान के परिमाण की कोटि १०२७ टन है। महत्ता के क्रमों का प् ...

                                               

अमेज़न मानक पहचान संख्या

अमेज़न मानक पहचान संख्या अमेजोन द्वारा प्रकाशित पुस्तकों की बिक्री हेतु दी जाने वाली पहचान संख्या है।

                                               

आई टी आई एल

इन्फोर्मेशन टेक्नोलोजी इन्फ्रस्ट्रक्चर लाइब्ररी{/0), सूचना तकनिक, सेवा, आईटी विकास और आईटी संचालन के प्रबंधन के लिए अवधारणाएं और अभ्यास का एक सेट है। आईटीआईएल कई महत्वपूर्ण आईटी अभ्यासों का एक विस्तृत विवरण देता है और व्यापक जाँच सूची, कार्य और प ...

                                               

आर एस संगणक)

यह लेख जालपन्नों के फीड से सम्बन्ध रखने वाले आर एस के बारे में है। अन्य प्रयोग हेतु आर एस देखें। आर.एस.एस रियली सिम्पल सिन्डिकेशन हेतु प्रयुक्त अंग्रेज़ी आदिवर्णिक शब्द है। यह दरअसल वेब पन्नों की फीड के प्रचलित प्रारुपों का एक समूह फेमिली है, अर् ...

                                               

प्रमाणन

प्रमाणन किसी वस्तु, व्यक्ति अथवा संगठन, की कुछ विशेषताओं की पुष्टि करने से सन्दर्भित है। यह पुष्टिकरण अक्सर, पर हमेशा नहीं, कुछ फार्म द्वारा बाहरी समीक्षा, शिक्षा, या मूल्यांकन के आधापर प्रदान किया जाता है।

                                               

भारतीय लेखा मानको की सूचि

लेखांकन मानक एक लिखित नीति अभिलेख है जो कि लेखांकन विशेषज्ञों या सरकार या अन्य नियामक संस्था द्वारा जारी किये जाते हैं जो कि मान्यता, मापन, प्रस्तुतीकरण, उपचाऔर वित्तीय विवरणों के वित्तीय हस्तान्तरणों को जारी करता है।

                                               

भूकम्पी संहिता

भूकम्पी संहिता उन भवन संहिताओं को कहते हैं जो भूकम्प आने के कारण जीवन तथा भवनों की हानि को कम करने के लिये डिजाइन की जातीं हैं। एक प्रसिद्ध कहावत है कि लोगों को भूकम्प नहीं मारता बल्कि भवन मारते हैं।

                                               

मानक ताप एवं दाब

● रसायन विज्ञान के लिये IUPAC ने मानक ताप और दाब निर्धारित किया है जो निम्नलिखित हैं- मानक निरपेक्ष दाब = 100 kPa. मानक ताप = 273.15 K 0 °C, 32 °F अन्य संस्थाओं के मानक ताप और दाब इनके आसपास किन्तु थोड़े अलग हैं। ● रसायन विज्ञान के लिये IUPAC ने ...

                                               

विश्व मानक दिवस

विश्व मानक दिवस अथवा अंतर्राष्ट्रीय मानक दिवस प्रतिवर्ष 14 अक्टूबर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है। यह दिउन हजारों विशेषज्ञों के प्रयासों का सम्मान करता है जो अमेरिकन सोसाइटी ऑफ मैकेनिकल इंजीनियर्स, अंतर्राष्ट्रीय इलेक्ट्रोटेक्निकल कमीशन, अंत ...

                                               

उच्च घनत्व कोलेस्ट्रॉल

कोलेस्ट्रॉल रक्त में घुलनशील नहीं होता है। उसका कोशिकाओं तक एवं उनसे वापस परिवहन लिपोप्रोटींस नामक वाहकों द्वारा किया जाता है। निम्न-घनत्व लिपोप्रोटीन या एलडीएल, बुरे कोलेस्ट्रॉल के नाम से जाना जाता है। उच्च-घनत्व लिपोप्रोटीन या एचडीएल, अच्छे कोल ...

                                               

कोलेस्टेरॉल

कोलेस्ट्रॉल या पित्तसांद्रव मोम जैसा एक पदार्थ होता है, जो यकृत से उत्पन्न होता है। यह सभी पशुओं और मनुष्यों के कोशिका झिल्ली समेत शरीर के हर भाग में पाया जाता है। कोलेस्ट्रॉल कोशिका झिल्ली का एक महत्वपूर्ण भाग है, जहां उचित मात्रा में पारगम्यता ...

                                               

अत्यधिक निम्न घनत्व कोलेस्ट्रॉल

कोलेस्ट्रॉल रक्त में घुलनशील नहीं होता है। उसका कोशिकाओं तक एवं उनसे वापस परिवहन लिपोप्रोटींस नामक वाहकों द्वारा किया जाता है। निम्न-घनत्व लिपोप्रोटीन या एलडीएल, बुरे कोलेस्ट्रॉल के नाम से जाना जाता है। उच्च-घनत्व लिपोप्रोटीन या एचडीएल, अच्छे कोल ...

                                               

निम्न घनत्व कोलेस्ट्रॉल

कोलेस्ट्रॉल रक्त में घुलनशील नहीं होता है। उसका कोशिकाओं तक एवं उनसे वापस परिवहन लिपोप्रोटींस नामक वाहकों द्वारा किया जाता है। निम्न-घनत्व लिपोप्रोटीन या एलडीएल, बुरे कोलेस्ट्रॉल के नाम से जाना जाता है। उच्च-घनत्व लिपोप्रोटीन या एचडीएल, अच्छे कोल ...

                                               

पथ्याहार

पथ्याहार उस भोजन या पेय को संदर्भित करता है जिसे शरीरोपयोगी संशोधित आहार बनाने के लिए कुछ परिवर्तित कर दिया जाता है। हालांकि सामान्यतया इसका उद्देश्य वजन घटाना या शरीर के गठन में परिवर्तन लाना है और कभी-कभी इसका उद्देश्य वजन बढ़ाने अथवा शरीर-सौष् ...

                                               

लॉरिक अम्ल

लॉरिक अम्ल, एक संतृप्त वसीय अम्ल होता है। ये श्वेत, चूर्ण रूपी ठोस होता है, जिसमें साबुन या तेजपत्ता तेल की सी गन्ध होती है।

                                               

आहार ऊर्जा

आहार ऊर्जा वह रासायनिक ऊर्जा है जिसे सभी जन्तु अपने आहार से प्राप्त करते हैं। यह ऊर्जा आणविक आक्सीजन की सहायता से कोशिकीय श्वसन में उत्पन्न होती है।

                                               

आहार वसा

वह पशु अथवा वनस्पति वसा जिसका प्रयोग खाने के लिए किया जाता है आहार वसा कहलाती है। किसी तेल के विपरीत, कमरे के तापमान पर आहार वसा अर्धठोस अवस्था में रहती है। यहाँ यह बात ध्यान देने योग्य है कि वसा शब्द का प्रयोग अमूमन तेल और आहार वसा दोनो के लिए ह ...

                                               

आहारविद्

आहारविद् या आहारिकीविद् स्वास्थ्य से सम्बन्धित व्यवसायिक है। वह भोजन की तैयारी एवं परोसने का निरीक्षण करता है, परिवर्तित आहार का विकास करता है, अनुसंधान करता है तथा लोगों एवं विभिन्न समूहों को स्वास्थ्यकर आहार की आदतों के बारे में शिक्षित करता है।

                                               

आहारीय रेशा

आहारीय रेशा, आहार में उपस्थित रेशे तत्त्व को कहते हैं। ये पौधों से मिलने वाले ऐसे तत्व हैं जो स्वयं तो अपाच्य होते हैं, किन्तु मूल रूप से पाचन क्रिया को सुचारू बनाने का अत्यावश्यक योगदान करते हैं। रेशे शरीर की कोशिकाओं की दीवार का निर्माण करते है ...

                                               

ग्लूकोज़

ग्लूकोज़ Glucose या द्राक्ष शर्करा द्राक्षधु सबसे सरल कार्बोहाइड्रेट है। यह जल में घुलनशील होता है तथा इसका रासायनिक सूत्र C 6 H 12 O 6 है। यह स्वाद में मीठा होता है तथा सजीवों की कोशिकाओं के लिए ऊर्जा का सर्व प्रमुख स्रोत है। यह पौधों के फलों जै ...

                                               

चोकर

चोकर गेहूं के अंदरूनी सुनहरे छिलके को कहते हैं। ये छिलका तैया गेहूं को पिसवाने पर आटे के साथ मिला हुआ आता है, व छानने पर अलग किया जा सकता है। इसमें आहारीय रेशा और आहारीय जस्ता उपस्थित होता है।

                                               

परपोषित पोषण

जब कोई जीव, अन्य जीव द्वारा बनाये गये भोजन से पोषण प्राप्त करते हैं, तो यह परपोषी पोषण कहलाता है, तथा ऐसे जीव जो दूसरे जीव द्वारा बनाये गये भोजन से पोषण प्राप्त करते हैं, परपोषित कहलाते हैं।

                                               

पोषण

पोषण वह विशिष्ट रचनात्मक उपापचयी क्रिया जिसके अन्तर्गत पादपों में खाद्य्य संश्लेषण तथा स्वांगीकरण और विषमपोषी जन्तुओं में भोज्य अवयव के अन्तःग्रहण, पाचन, अवशोषण, स्वांगीकरण द्वारा प्राप्त उर्जा से शारीरिक वृद्धि, मरम्मत, ऊतकों का नवीनीकरण और जैवि ...

                                               

प्रोटीन

प्रोटीन या प्रोभूजिन एक जटिल भूयाति युक्त कार्बनिक पदार्थ है जिसका गठन कार्बन, हाइड्रोजन, आक्सीजन एवं नाइट्रोजन तत्वों के अणुओं से मिलकर होता है। कुछ प्रोटीन में इन तत्वों के अतिरिक्त आंशिक रूप से गंधक, जस्ता, ताँबा तथा फास्फोरस भी उपस्थित होता ह ...

                                               

प्रोबायोटिक

प्रोबायोटिएक प्रकार के खाद्य पदार्थ होते हैं, जिसमें जीवित जीवाणु या सूक्ष्मजीव शामिल होते हैं। प्रोबायोटिक विधि रूसी वैज्ञानिक एली मैस्निकोफ ने २०वीं शताब्दी में प्रस्तुत की थी। इसके लिए उन्हें बाद में नोबेल पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था। ...

                                               

फाइबर

फाइबर अनाज, फल पत्तेदार सब्जी, रोटी, फलियों, दालों व खाद्य वस्तुओं के उस हिस्से को कहते हैं, जो बिना पचे व अवशोषित हुए ही आंत के द्वारा बाहर निकल जाता है। ये भोजन के आवश्यक तत्त्व हैं और इनके कारण पेट व आंत की सफाई भी आसानी से हो जाती है। ये पदार ...