पिछला

फिल्मांकन. फ़िल्म की सचल फ़ोटोग्राफ़ी को फिल्मांकन या सिनेमेटोग्राफ़ी कहते है। यह शब्द ग्रीक शब्द kinesis grapho से बना है। इसका सामान्य फ़ोटोग्राफी से घनिष्ठ स ..




                                               

वाक्पट

सवाक फिल्म या वाक्पट या बोलपट एक ऐसा चलचित्र होता है जिसमें किसी मूक फिल्म के विपरीत, छवि के साथ आवाज भी फिल्म पर अंकित होती है। दूसरे शब्दों में सवाक फिल्म वह चलचित्र होता है जिसमें छवि और ध्वनि दोनों समक्रमिक रूप से प्रकट होती हैं। इतिहास में किसी सवाक फिल्म का प्रथम सार्वजनिक प्रदर्शन 1900 में पेरिस में हुआ था, लेकिन इस प्रणाली को वाणिज्यिक रूप से एक व्यावहारिक रूप प्रदान करने में कई दशकों का समय लगा।

                                               

त्रिआयामी चलचित्र

त्रिआयामी चलचित्र एक चलचित्र होता है, जिसकी छवियां आम चलचित्रों से कुछ भिन्न बनती हैं। चित्रों की छाया अंकित करने के लिए विशेष मोशन पिक्चर कैमरे का प्रयोग किया जाता है। त्रि-आयामी चलचित्र १८९० के दौरान भी हुआ करते थे, लेकिन उस समय के इन चलचित्रों को थिएटर पर दिखाया जाना काफी महंगा काम होता था। मुख्यत: १९५० से १९८० के अमेरिकी सिनेमा में ये फिल्में प्रमुखता से दिखने लगी। सैद्धांतिक त्रि-आयामी चलचित्र थियोरिटिकल थ्री-डी इमेज प्रस्तुत करने का आरंभिक तरीका एनाजिफ इमेज होता है। इन तरीकों को इसलिये प्रसिद्धि मिली, क्योंकि इनका निर्माण और प्रदर्शन सरल था। इसके अलावा, इकलिप्स मैथड, लेंटीकुलर और बैर ...

फिल्मांकन
                                     

फिल्मांकन

फ़िल्म की सचल फ़ोटोग्राफ़ी को फिल्मांकन या सिनेमेटोग्राफ़ी कहते है। यह शब्द ग्रीक शब्द kinesis grapho से बना है। इसका सामान्य फ़ोटोग्राफी से घनिष्ठ संबंध है हाँलाँकि जब कैमरा और दृश्य सचल होते हैं तो अनेक संबंधित विषयों और समस्याओं का ध्यान भी रखना होता है। यह फिल्मों से संबंधित एक कला है जिससे फ़िल्म निर्देशक और छायाकार फ़िल्म को निखारते हैं।