पिछला

उल्टी - स्वास्थ्यविज्ञान. आमाशय के अन्दर के पदार्थों को बलपूर्वक शरीर के बाहर निकालने की क्रिया को उल्टी या वमन कहते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे कि गै ..




                                               

ऊष्मा पम्प

ऊष्मा पम्प या हीट पम्प ऐसी युक्ति है जो किसी ऊष्मास्रोत से लेकर ऊष्मानिमज्जक को ताप प्रवणता के उल्टी दिशा में ऊष्मा स्थानान्तरित करती है। अर्थात् ऊष्मापम्प सहज ऊष्मा-प्रवाह के विपरीत दिशा में ऊष्मा प्रवाहित कराते हैं। कम्प्रेसर से चलने वाले वातानुकूलन और फ्रीजर ऊष्मा-पम्प के आम उदाहरण हैं। किन्तु विशेष रूप से घरों/कक्षों की हवा को गर्म/ठण्डा करने में प्रयुक्त युक्तियों को ही ऊष्मा पम्प कहा जाता है। एक ऐसा थर्मल मेकेनिकल डिवाइस जो एक्सटर्नल वर्क से LOW TEMP. थर्मल रिजर्वायर से HIGH TEMP. थर्मल रिजर्वायर की तरफ हीट ट्रांसफर करता HAI.

                                               

चक्रीय अर्थव्यवस्था

चक्रीय अर्थव्यवस्था एक पुनर्सर्जक व्यवस्था है जिसमें निविष्ट संसाधन, बर्बादी, उत्सर्जन, ऊर्जा लीकेज आदि को न्यूनतम कर दिया जाता है। ऐसा पदार्थ तथा ऊर्जा के लूपों को धीमा करके, बन्द करके या संकरा करके किया जाता है। चक्रीय अर्थव्यवस्था, रैखिक अर्थव्यवस्था से उल्टी व्यवस्था है जिसमें लो, बनाओ, डिस्पोज करो मॉडल चलता है।

                                               

उत्क्रमणीय अभिक्रिया

उत्क्रमणीय अभिक्रिया वह रासायनिक अभिक्रिया है जिसमें अग्रक्रिया से उत्पन्न उत्पाद पुनः अभिक्रिया करके वही उत्पाद बनाते हैं जो अग्रक्रिया के लिये अभिकारक हैं। अर्थात अग्रक्रिया के उत्पाद ही पश्चक्रिया के अभिकारक होते हैं तथा अग्रक्रिया के अभिकारक ही पश्चक्रिया के लिये उत्पाद होते हैं। उत्क्रमणिय्य अभिक्रिया का अर्थ है - वह अभिक्रिया जो उल्टी दिशा व सीधी दिशा दोनो में चलायी जा सके। दो अभिकारक तथा दो उत्पाद के लिये उत्क्रमणीय अभिक्रिया को निम्नलिखित रूप से निरूपित किया जा सकता है- A + B ⇌ C + D {\displaystyle aA+bB\rightleftharpoons cC+dD} यहाँ A और B अभिक्रिया करके C तथा D बनाते हैं अग्रक्रि ...

                                               

भाषा पुनर्जीवन

किसी व्यक्ति, सांस्कृतिक समूह, सरकार या किसी राजनैतिक समूह आदि द्वारा किसी भाषा के पतन की दिशा को उलटकर उसका प्रचार-प्रसार करने की कोशिश को भाषा पुनर्जीवन कहते हैं। भाषा के पुनर्जीवन के लक्ष्य भिन्न भिन्न हो सकते हैं जो उस भाषा को बोलने वाले समुदाय एवं भाषा की स्थिति पर निर्भर करते हैं। उदाहरण के लिये लुप्त होने के कगापर स्थित किसी भाषा को पुनर्जीवित करने का लक्ष्य अलग होगा और किसी विकसित किन्तु धीरे-धीरे पतनशील किसी भाषा को पुनर्जीवित करने के लक्ष्य अलग-अलग होने स्वाभाविक हैं। हिब्रू सहित कई अन्य भाषाओं को पुनर्जीवित करने का उदाहरण आधुनिक विश्व के सामने है।

उल्टी
                                     

उल्टी

आमाशय के अन्दर के पदार्थों को बलपूर्वक शरीर के बाहर निकालने की क्रिया को उल्टी या वमन कहते हैं।

इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे कि गैस्ट्रीक, जहर या मस्तिष्क का ट्यूमर इत्यादि. अत्यधिक उल्टी से शरीर में जल की कमी जाती है; कभी कभी रोगी को शिराओं के माध्यम से जलीय घोल देना पड़ता है।

                                     

1. सफर में उल्टी आना

सफर के दौरान इस तरह से उल्टी आना सफर के मजे को खराब तो करता ही है साथ ही आपकी सेहत भी खराब कर सकता है। सफर में उल्टी आना एक बहुत सामान्य परेशानी है। हम में से बहुत से लोगों को इसकी वजह से सफर के दौरान परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सफर में उल्टी आना मोशन सिकनेस से जुड़ा हुआ है। मोशन सिकनेस की वजह से केवल सफर में उल्टी ही नहीं बल्कि कई बार ऊंचाई पर जाने से, पानी को देखने से या झूले पर चढ़ने से भी परेशानी हो सकती है।

मोशन सिकनेस

मोशन सिकनेस के परेशान करने वाले लक्षण आमतौपर तब रुकते हैं जब मोशन रुकता है, लेकिन यह हमेशा सच नहीं होता है। ऐसे बहुत से लोग हैं जो यात्रा खत्म होने के कुछ दिन बाद तक भी लक्षणों का शिकार होते हैं। ज्यादातर लोग जिन्हें पहले सफर के दौरान मोशन सिकनेस की वजह से सफर में उल्टी आना या दूसरी परेशानी होती है तो वे अपने डॉक्टर से पूछ सकते हैं कि अगली बार इसे कैसे रोका जाए?

अगर आपको सफर में उल्टी आना और मोशन सिकनेस की परेशानी है तो आप इन उपायों को आजमा सकते हैंः