पिछला

संदीप्ति - ऊर्जा रूपान्तरण ..




                                               

जीवदीप्ति

                                               

संदीप्ति

रासायनिक संदीप्ति Chemoluminescence - resulting of a chemical reaction जीवदीप्ति Bioluminescence - by a living organism विद्युतरासायनिकसम्दीप्ति Electrochemiluminescence - by an electrochemical reaction विद्युतसंदीप्ति Electroluminescence - in response to an electric current passed through it Crystalloluminescence, produced during crystallization कैथोडसंदीप्ति Cathodoluminescence - where beam of electrons impacts on a luminescent material such as a phosphor Fractoluminescence, generated when bonds in certain crystals are broken by fractures यांत्रिकसंदीप्ति Mechanoluminescence - resulting ...

                                               

तापदीप्ति

किसी गरम वस्तु से, उसके अधिक ताप के कारण दृश्य प्रकाश का निकलना तापदीप्ति कहलाता है। उदाहरण के लिये साधारण बल्ब से निकलने वाला प्रकाश तापदीप्ति के कारण होता है।

                                               

प्रकाशसंदीप्ति

तंतुवाले दीपक तथा गैस के मैंटल बत्तीवाले दीपक आदि इस कारण प्रकाश उत्सर्जित करते हैं कि उच्च ताप पर तंतु तथा मैंटल में तापदीप्ति उत्पन्न हो जाती है। पर कुछ अन्य विधियाँ भी हैं जिनसे वस्तुएँ प्रकाश उत्सर्जित कर सकती हैं। उदाहरणस्वरूप, कुछ पदार्थो पर अदृश्य पराबैंगनी किरणों के, अदृश्य कैथोड किरणों के, अदृश्य एक्स किरणों के अथवा अदृश्य रेडियोऐक्टिव विकिरण के पड़ने से वे प्रकाश उत्सर्जित करने लगते हैं। कुछ रासायनिक अभिक्रियाओं में भी प्रकाश निकलता है। इस सब प्रभावों को प्रकाशसंदीप्ति के लिये प्राथमिक उत्तेजन कई स्रोतों, जैसे प्रकाश, यांत्रिक तनाव, रासायनिक अभिक्रिया, ऊष्मा, विद्युत्‌ ऊर्जा, नाभ ...

                                               

रासायनिक संदीप्ति

रासायनिक अभिक्रिया के अंतर्गत ऊष्मा के साथ-साथ दीप्ति का निकलना रासायनिक संदीप्ति कहलाता है। इसे रासायनिक उत्पत्ति का ठंडा प्रकाश भी कह सकते हैं। इसमें सब प्रकार के विकिरण दृश्यमान - अवरक्त तथा पराबैंगनी - संम्मिलित हैं। रासायनिक संदीप्ति अधिकांश ऑक्सीकरण अभिक्रियाओं में उत्पन्न होती है। अमोनियम डाइक्रोमेट के गरम करने पर यह संदीप्ति देखी जा सकती है। गंधकवाले यौगिकों तथा फॉर्मेल्डिहाइड, एक्रोलीन, ग्लूकोज़ आदि पदार्थो का ऑक्सीकरण करने पर भी यह संदीप्ति उत्पन्न होती है। रासायनिक संदीप्ति में उत्पन्न प्रकाश उन अणुओं के ऑक्सीकरण के स्थानांतरण के कारण होता है, जो ऑक्सीकृत नहीं होते हैं। रासायनिक ...

                                               

रेडियोसंदीप्ति

किसी पदार्थ पर आयनकारी विकिरण द्वारा बमबारी करने पर उससे प्रकाश निकलने की परिघटना को रेडियोसंदीप्ति कहते हैं। इसका उपयोग रात में धीमें स्तर का प्रकाश करने के लिये किया जाता है जो किसी उपकरण को प्रकाशित करने या संकेत करने के लिये उपयोग में लाया जा सकता है। घड़ियों की सुइयों पर रेडियोसंदीप्तिकारी पेंट का उपयोग किया जाता रहा है जिसकी सहायता से अंधेरे में भी समय देखा जा सके।