पिछला

वानाक्राई - डिजिटल माध्यम. वानाक्राई एक ख़तरनाक रैनसमवेयर कंप्यूटर वॉर्म का नाम है जिसने 12 मई 2017 के बाद से इंटरनेट के जरिए 150 से अधिक देशों में 2.30.000 ..


                                     

वानाक्राई

वानाक्राई एक ख़तरनाक रैनसमवेयर कंप्यूटर वॉर्म का नाम है जिसने 12 मई 2017 के बाद से इंटरनेट के जरिए 150 से अधिक देशों में 2.30.000 से अधिक कंप्यूटरों को संक्रमित किया है। यह माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम को निशाना बना रहा है। वानाक्रिप्ट, वानाक्रिप्टर, वानाडिक्रिप्टर आदि नामों से भी जाना जाने वाला यह कंप्यूटर वॉर्म जिन कंप्यूटरों को संक्रमित करता है, उनमें प्रयोक्ताओं की ज़रूरी फाइलों को एनक्रिप्ट कर देता है। इसके बाद प्रयोक्ता से कहा जाता है कि वह बिटकॉइन नामक डिजिटल करेंसी के माध्यम से एक तय रकम का भुगतान करे जिसके बाद ही उसकी फाइलें फिर से उपलब्ध होंगी।

यह वॉर्म फिशिंग हमलों की ही तरह प्रयोक्ता के कंप्यूटर को प्रभावित करता है। जब प्रयोक्ता किसी असुरक्षित वेब लिंक पर क्लिक करता है या कोई असुरक्षित ईमेल अटैचमेंट डाउनलोड करता है तो वानाक्राई उसके कंप्यूटर में पहुँच जाता है। हालाँकि एक बार कंप्यूटर में स्थापित होने के बाद यह उसके नेटवर्क के भीतर भी फैल सकता है। इसने खास तौपर उन कंप्यूटरों को प्रभावित किया है जिन्होंने माइक्रोसॉफ्ट की ओर से जारी ताजा सुरक्षा अपडेट को इन्स्टॉल नहीं किया है। ऐसे हमलों से बचने का सबसे पहला नियम यह है कि इंटरनेट के माध्यम से किसी भी अवांछित प्रोग्राम को डाउनलोड न किया जाए। ऐसे प्रोग्राम ईमेल, चैट संदेशों, वेबसाइटों आदि में दी गई कड़ियों लिंक्स के जरिए डाउनलोड हो सकते हैं। माइक्रोसॉफ़्ट द्वारा विंडोज XP का अपडेट बंद करने से इस रैनसमवेयर का फैलाव बढ़ा।

यूजर्स ने सर्च भी किया:

वनकरई, वानाक्राई, डिजिटल माध्यम. वानाक्राई,

...

रैन समवेयर साइबर हमला सम सामयिक घटना चक्र.

नई दिल्ली। अभी रैन्समवेयर वानाक्राई वायरस का खतरा विश्व से पूरी तरह खत्म भी नहीं हुआ है और अब एक नए साइबर अटैक का दावा किया जा रहा है। एक ग्लोबल साइबर सिक्योरिटी फर्म ने दावा किया है कि एक नया साइबर अटैक हुआ है और इसका. रैंसमवेयर के खतरे के बीच 56 करोड़ पासवर्ड हुए लीक. वानाक्राई नाम के एक रैंसमवेयर के कारण पूरे विश्व में दहशत फैली हुई है. अबतक 150 देशों के करीब 10.000 संस्थाएं और करीब डेढ़ लाख लोग इस वायरस से प्रभावित हुए हैं जिसमें भारत भी शामिल है. इस वायरस के बारे में नई खबर यह कि अब यह. अमेरिका ने उत्तर कोरियाई प्रोग्रामर को. New Delhi. भारत समेत दुनिया भर में एक बार फिर से बड़ा साइबर अटैक हुआ है।वानाक्राई रैनसमवेयर जैसे वायरस ने दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। इस साइबर अटैक के चलते भारत के सबसे बड़े मुंबई स्थित कंटेनर पोर्ट जवाहर लाल नेहरू पोर्ट Следующая Войти Настройки Конфиденциальность Условия. खतरनाक है रैन्समवेयर वानाक्राई वायरस, Kautilya. ग्लोबल साइबर अटैक वानाक्राई रैनसमवेयर से मुंबई की JNPT समेत 20 कंपनियों की वेबसाइट हैक. Daily English News जून 28, 2017. 53. साइबर अटैक के चलते भारत के सबसे बड़े मुंबई स्थित कंटेनर पोर्ट जवाहर लाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट JNPT समेत दुनिया की 20 बड़ी.


अब कंगाल बनाने के लिए आ रहा है खतरनाक वायरस New.

New Delhi. भारत समेत दुनिया भर में एक बार फिर से बड़ा साइबर अटैक हुआ है।वानाक्राई रैनसमवेयर जैसे वायरस ने दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। इस साइबर अटैक के चलते भारत के सबसे बड़े मुंबई स्थित कंटेनर पोर्ट जवाहर लाल नेहरू पोर्ट Следующая Войти Настройки. वानाक्राई रैंसमवेयर वायरस क्या है? Welcome NRI. देश के ज्यादातर साइबर सिक्यॉरिटी एक्सपर्ट के मुताबिक भारत इस साइबर अटैक से बुरी तरह प्रभावित हुआ है। दुनिया भर में इस वायरस के 150 देशों में कंप्यूटर सिस्टम्स पर यह अटैक हुआ है। इस खतरनाक फिरौती वाले वायरस रैंसमवेयर वानाक्राई. आपका कंप्यूटर आज हो सकता है हैक अगर आपने नहीं. देश की राजधानी दिल्ली में पहली बार वानाक्राई रैनसम साइबर अटैक हुआ है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक करीब 200 कंप्यूटरों पर ये अटैक हुआ है।.


अगर साइबर हमलावर फ़िरौती मांगें तो ना दें BBC.

दुनिया के १५० देशों में कम्प्यूटर सिस्टम्स पर वार करवाने वाले रैन्समवेयर वानाक्राई के चलते इन्डिया में ४०००० से ज्यादा. रैन्समवेयर वानाक्राई KhabarDekho, Khabar Dekho. आपको बता दें मार्कस हचिन्स ट्विटर पर मैलवेयर टेक ब्लॉग अकाउट चलाते हैं. जब दुनिया भर में वानाक्राई मैलवेयर तेजी से अपना पांव पसार रहा था तब उन्होंने गलती से इस पर लगाम लगाया और इसकी चपेट में आने से ब्रिटेन की सबसे बड़ी हेल्थ.


रैन्समवेयर वानाक्राई वायरस से दुनिया को बचाने.

वानाक्राई Wanacry या वानाक्रिप्ट नाम के इस रैन समवेयर ने माइक्रोसॉफ्ट विडोंज ऑपरेटिंग सिस्टम वाले कंप्यूटरों को निशाना बनाया। रैनसम अंग्रेजी शब्द है, जिसका अर्थ है फिरौती। इसमें कंप्यूटरों को निशाना बनाकर वानाक्राई के द्वारा. दुनियाभर में फिर साइबर हमला, आपका Moneycontrol. साइबर विशेषज्ञों का मानना है कि देश की साइबर सुरक्षा पर समय रहते ध्यान नहीं दिया गया, तो सरकार के डिजिटल इंडिया और कैशलेस इकॉनमी जैसे अभियानों के भविष्य पर रैनसमवेयर ​वानाक्राई की तरह साइबर हमले का खतरा बना रहेगा. साइबर. दुनिया भर को WannaCry रैन्समवेयर से बचाने वाला. वानाक्राई कंप्यूटर सिस्टम की फाइलों पर प्रभाव डालता है, जिससे आॅपरेटिंग सिस्टम काम करना बंद कर देता है। ऐसे में जब भी किसी बटन को दबाया जाता है, तो एक पॉपअप विंडो खुलती है, जिसमें फाइलों को दोबारा डिक्रिप्ट वापस करने के.


Read all Latest Updates on and about वानाक्राई Page 1.

मई में एक नए किस्म के फिरौती वसूलने वाले वायरस रैंसमवेयर वानाक्राई का हमला हुआ और दावा किया गया कि इसने 150 से ज़्यादा देशों के तीन लाख से ज़्यादा कंप्यूटरों को अपने कब्ज़े में लिया। क्या ब्रिाटेन, क्या स्पेन पुर्तगाल, फ्रांस और. अब नए साइबर अटैक का दावा, रैन्समवेयर वानाक्राई से. हालांकि सरकार ने इसे पूरी तरह से खारिज कर दिया है। वहीं साइबर एक्सपर्ट्स बताते हैं कि वानाक्राई रेनसम वेयर के हमले से भारत बहुत ज्यादा प्रभावित है। रेनसम वेयर वानाक्राई के चलते भारत में 40, हजार से ज्यादा कंप्यूटर इनफेक्टेड हुए.


Marcus Hutchins Who Stopped Wannacry Cyber Attack Arrested By.

तिरूपति: मंदिर का संचालन करने भागवान वेंकटेश्वर ट्रस्ट तिरूमला तिरूपति देवस्थानम के तीन दर्जन कंप्यूटर वानाक्राई रैनसमवेयर वायरस हमले से प्रभावित हैं। 2500 से ज्यादा कंप्यूटरों में से टीटीडी मुख्यालय में स्थानीय प्रशासन. तिरुपति बालाजी मंदिर ट्रस्ट के सिस्टम पर. रैनसमवेयर वानाक्राई साइबर हमले से जहाँ एक तरफ दुनियाभर के 150 से ज्यादा देश प्रभावित हुए हैं वहीं भारत पर इसका कोई.

RBI Issues Alert Over Ransomware Wannacry बैंकों में.

वाशिंगटन, भाषा । अमेरिका में एक व्यक्ति पर वानाक्राई रैंसमवेयर से 150 देशों में कम्प्यूटरों पर हमला करने और बांग्लादेश में 8.1 करोड़ डॉलर की बैंक चोरी करने समेत दुनियाभर में बड़े साइबर हमले करने के. दिल्ली में हुआ पहला वानाक्राई Navodaya Times. दुनिया के 150 देशों में कंप्यूटर सिस्टम्स पर वार करने वाले रैंसमवेयर वानाक्राई के चलते इंडिया में 40.000 से ज्यादा कंप्यूटर इंफेक्शन के शिकार हुए हैं और भारत विश्व में तीसरा सबसे सबसे ज्यादा प्रभावित देश रहा। हालांकि न तो.


03 main page 07.PDF.

दुनिया को वानाक्राई जैसे साइबर हमले से बचाने वाले ब्रिटेन के साइबर सुरक्षा शोधकर्ता मार्कस हचिंस को अमेरिका के लास वेगास हवाई अड्डे से गिरफ्ताकर लिया गया। उसे बैंकों पर साइबर हमले से संबंधित सॉफ्टवेयर बनाने के आरोप में. वानाक्राई हमलाः भारत में 60 Punjab Kesari. व्हाइट हाउस के होमलैंड सुरक्षा सलाहकार टॉम बोसर्ट ने कहा कि अमेरिका का विश्वास है कि मई में हुए साइबर हमले ​वानाक्राई के पीछे उत्तर कोरिया था. बॉसर्ट ने सोमवार को वॉल स्ट्रीट के जर्नल में लिखे लेख में कहा, सावधानीपूर्ण की​.


अमेरिका ने किया दावा, वानाक्राई साइबर हमले के.

कंपनियों द्वारा फाइलिंग से संबंधित कॉरपोरेट मंत्रालय का एक अहम पोर्टल एमसीए 21 पिछले महीने वानाक्राई रैनसमवेयर हमले का शिकार हुआ था और उसकी कुछ सेवाएं प्रभावित हुईं।. टीटीडी पर वानाक्राई वायरस का हमला Punjab Kesari. 12 मई 2017 को दुनियाभर में कप्‍यूटरों पर एक वायरस का हमला हुआ है, जिससे भारत भी अछूता नहीं है इस वायरस का नाम है वानाक्राई यह एक रैंसमवेयर वायरस है, तो आईये जानते हैं क्‍या है वानाक्राई रैंसमवेयर वायरस What is Wanna Cry Ransomware Virus.​.


रैन्समवेयर वानाक्राई का तीसरा बडा शिकार भारत.

मुम्बई। विश्व स्तर पर सक्रिय रैनसमवेयर वानाक्राई वायरस ने पूरे महाराष्ट्र में तमाम पुलिस स्टेशनों को अपनी चपेट में ले लिया है। सूत्रों के अनुसार इसकी वजह से महत्वपूर्ण डाटा लाक हो गया है। शीर्ष अधिकारियों ने माना कि. सरकारी पोर्टल एमसीए 21 पर हुआ था वानाक्राई. जापान कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पांस टीम कोऑर्डिनेशन सेंटर के अनुसार, 600 कंपनियों के 2.000 के करीब कंप्यूटर रैनसमवेयर वायरस वानाक्राई का शिकार हुए हैं। एक समाचार एजेंसी ने हिताची के हवाले से कहा है कि रैनसमवेयर हमले के चलते कंपनी की ईमेल.


अमेरिका ने उत्तर कोरियाई प्रोग्रामर को virarjun.

सुरक्षा सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी क्विक हील का कहना है कि उसने भारत में वानाक्राई रैन्समवेयर के हमले के 48.000. सरकारी पोर्टल भी वानाक्राई रैनसमवेयर का शिकार. अग्रणी एंटी वायरस कंपनी कास्पस्र्की लैब दक्षिण एशिया के प्रबंध निदेशक अल्ताफ हाल्दे ने आईएएनएस को बताया, हमारे शोधकर्ताओं ने इन सूचनाओं का विश्लेषण किया और पुष्टि की है कि भारतीय मूल के शोधकर्ता द्वारा रैनसमवेयर वानाक्राई और. Ransom Virus Attack On 600 Japanese Companies जापान की. नई दिल्ली भाषा । कंपनियों द्वारा फाइलिंग से संबंधित कॉर्पोरेट मंत्रालय का एक अहम पोर्टल एमसीए 21 पिछले महीने वानाक्राई रैनसमवेयर हमले का शिकार हुआ था और उसकी कुछ सेवाएं प्रभावित हुईं।एक आधिकारिक. ग्लोबल साइबर अटैक वानाक्राई रैनसमवेयर से मुंबई. वानाक्राई एक ख़तरनाक रैनसमवेयर कंप्यूटर वॉर्म का नाम है जिसने 12 मई 2017 के बाद से इंटरनेट के जरिए 150 से अधिक देशों में 2.30.000 से अधिक कंप्यूटरों को संक्रमित किया है। यह माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम को निशाना बना रहा है।. दिल्ली की कंपनी ने वानाक्राई ने 200 Gizbot Hindi. खतरनाक मैलवेयर रैन्समवेयर वानाक्राई से दुनिया को बचाने वाले मार्कस हचिन्स को अमेरिका की फेडरल एजेंसी एफबीआई ने गिरफ्ताकर लिया है.


डिजिटल इंडिया और कैशलेस इकॉनमी के भविष्य को.

नई दिल्ली। वानाक्राई रैनसम साइबर अटैएक बार फिर भारत में पहुंच चुका है।. CYBER ATTACK EFFECTED BANK AND ATM Jansatta. वानाक्राई रैंसमवेयर के पीछे था उत्तर कोरियाई हैकर, रिज्यूमे से हुई पहचानवानाक्राई रैंसमवेयर के पीछे था उत्तर कोरियाई हैकर, रिज्यूमे से हुई पहचान एजेंसी लॉस एंजेल्स साल 2017 में Dhar वानाक्राई रैंसमवेयर के पीछे था उत्तर. मिसाल: वानाक्राई हमला रोकने वाला युवक Hindustan. कंपनियों द्वारा फाइलिंग से संबंधित कोरपारेट मंत्रालय का एक अहम पोर्टल एमसीए 21 पिछले महीने वानाक्राई रैंसमवेयर हमले का शिकार हुआ था और उसकी कुछ सेवाएं प्रभावित हुईं। एक आधिकारिक दस्तावेज के अनुसार संभवत: यह केंद्र सरकर.

...