पिछला

तकनीकी और अभियान्त्रिकी - परमाण्विक बल सूक्ष्मदर्शी यंत्र, प्रदर्शक, माउस, रासायनिक इंजीनियरी, वैमानिक अभियान्त्रिकी, वैमानिक और अन्तरिक्षीय अभियान्त्रिकी ..




                                               

परमाण्विक बल सूक्ष्मदर्शी यंत्र

परमाण्विक बल सूक्ष्मदर्शी यंत्र, जिसे क्रमवीक्षण बल सूक्ष्मदर्शी यंत्र भी कहा जाता है, एक अति-विभेदनशील यंत्र है, जो नैनोमीटर के अंशों से भी सूक्ष्म स्तर तक दिखा सकता है, जो कि प्रकाशिक सूक्ष्मदर्शीओं की तुलना में १००० गुना बेहतर हैं। प्रकाशिक सूक्ष्मदर्शी उनकी विवर्तन सीमा से सीमित हो जाते हैं। इन्हे अगुआ किया गर्ड बिन्निग और हैन्रिक रोह्रर के बनाये अवलोकन टनलिंग सूक्ष्मदर्शी यंत्र नें, जिसके लिये उन्हे १९८६ में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। बिन्निग, कैल्विन केट और क्रिस्टॉफ गर्बर नें १९८६ में पहले AFM का विकास किया। आज नैनो स्तर पर प्रतिबिंबन, मापन और दक्षप्रयोग में यह यंत्र महत्व ...

                                               

प्रदर्शक

सी.आर.टी.का पूरा नाम ऋणाग्र किरण नलिका कैथोड रे टयूब है। इसमेँ चित्रनली की सतह पर फास्फोरस भास्वर का लेप होता है तथा इससे हवा को बाहर निकालकर उसमेँ निर्वात वैक्यूम बना लिया जाता है। जब पीछे की ओर से इसकी सतह पर इलेक्ट्रान की धारा छोड़ी जाती है तो यह सतह से टकराकर प्दीपत होकर बिंब का निर्माण करती है।

                                               

माउस

माउस संगणकों में इस्तेमाल होने वाला एक इनपुट उपकरण है। यह कर्सर को चलाकर पटल के वांछित स्थान पर उसे ले जाने तथा इसका नोद्य दबाकर उचित विकल्प चुनने में मदद करता है। यह एक छोटा सा यन्त्र है जो कड़े समतल सतह पर हथेली में पकड़कर चलाया जा सकता है। इसमें कम से कम एक नोद्य लगा रहता है और कभी-कभी तीन से पाँच नोद्य तक लगे रहते हैं। इसमे साधारणत: दो नोद्य तथा पटल पर कर्सर उपर नीचे ले जाने के लिए एक गोलाकार नोद्य होता है। यह विशेषकर चियोसा के लिए महत्वपूर्ण है।

                                               

रासायनिक इंजीनियरी

रासायनिक अभियान्त्रिकी रसायन शास्त्र, भौतिकी, अर्थशास्त्र वगैरह और उनके सिद्धान्तों को औद्योगिक उपयोगों में प्रयुक्त कराने वाला विज्ञान या व्यवसाय है। इसका मुख्य हिस्सा प्रक्रम अभियान्त्रिकी कहलाता है, जिसमें भारी मात्रा में निर्मित रसायनों को औद्योगिक स्तर पर सहज तरीके से बनाने का अध्ययन किया जाता है। लेकिन आज रासायनिक अभियान्त्रिकी सिर्फ़ इसी तक सीमित नहीं है। आज रासायनिक अभियन्ता जैवप्रौद्योगिकी विषयों पर काम और शोध करते हैं और विमान, अन्तरिक्ष यान, खाद्य पदार्थ, जैवमेडिकल संयन्त्र, सिलिकॉन तकनीकी. नैनोतकनीकी, इलेक्ट्रॉनिक्स वगैरह के क्षेत्रों में नये और उच्च कोटि के पदार्थों का निर्माण ...

                                               

वैमानिक अभियान्त्रिकी

वैमानिक अभियान्त्रिकी विमानों की अभिकल्पना, निर्माण और प्रचालन करने का विज्ञान, कला और कार्य है। ये वैमानिक और अन्तरिक्षीय अभियान्त्रिकी के दो मुख्य हिस्सों में से एक है।

                                               

वैमानिक और अन्तरिक्षीय अभियान्त्रिकी

वैमानिक और अन्तरिक्षीय अभियान्त्रिकी विमानों और अन्तरिक्ष यानों की रूपरेखा, निर्माण और चालन में प्रयुक्त होने वले विज्ञान और तकनीकी का अध्ययन और कार्य है। इसके दो ख़ास हिस्से हैं: वैमानिक अभियान्त्रिकी और अन्तरिक्षीय अभियान्त्रिकी।

                                               

संगणक अभियान्त्रिकी

संगणक अभियांत्रिकी या कम्प्यूटर अभियान्त्रिकी अभियांत्रिकी कि वह शाखा है जिसमे संगणक के सभी हार्डवेयर, साफ्टवेयर एवं प्रचालन तंत्र की डिजाइन, रचना, निर्माण, परीक्षण, रखरखाव आदि का अध्ययन किया जाता है। पहले यह वैद्युत प्रौद्योगिकी की एक शाखा मात्र थी।